एडवांस्ड सर्च

Advertisement

जानिए क्यों खास है मदीना का यह मस्जिद, एक साथ 10 लाख लोग पढ़ सकते हैं नमाज

अशरफ वानी [Edited by: विशाल कसौधन]मदीना, 07 January 2019

मुसलमानों के लिए मक्का के बाद मदीना की यह मस्जिद दूसरी सबसे बड़ी धर्मस्थल के तौर पर मानी जाती है. यह मस्जिद इस्लाम के आखिरी पैगंबर हजरत मुहम्मद ने 622 ईसवी ने बनाई थी. उसके बाद इसके तामीर में विस्तार हुआ. इस मस्जिद में एक साथ 6 से 10 लाख लोग नमाज पढ़ सकते हैं. हज के दौरान इस मस्जिद में एक साथ 10 लाख लोग नमाज अदा करते हैं. यहां पैगंबर हजरत मुहम्मद का दफन किया गया है.

Al Masjid an Nabawi is a mosque established and originally built by the Islamic prophet hazrat Muhammad. It was the third mosque built in the history of Islam and is now one of the largest mosques in the world. It is the second holiest site in Islam, after the Great Mosque in Mecca.

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay