एडवांस्ड सर्च

Advertisement

इस देश में देवदूत बने भारतीय नेवी के जांबाज, बचाईं 192 जिंदगियां

aajtak.in [Edited By: मोहित पारीक]
24 March 2019
इस देश में देवदूत बने भारतीय नेवी के जांबाज, बचाईं 192 जिंदगियां
1/7
भारतीय नौसेना के जवान सिर्फ भारतीय सीमा की ही सुरक्षा नहीं करते हैं, बल्कि सेना के ये जाबांज भारत से कई किलोमीटर दूर मोजांबिक में भी अपनी वीरता का परिचय दे रहे है. खतरनाक चक्रवात का सामना कर रहे मोजांबिक में नेवी के जवान देवदूत बनकर वहां के लोगों की मदद कर रहे हैं.
इस देश में देवदूत बने भारतीय नेवी के जांबाज, बचाईं 192 जिंदगियां
2/7
चक्रवात प्रभावित मोजाम्बिक में राहत अभियान के तहत भारतीय नौसेना ने 192 से ज्यादा लोगों को सुरक्षित बचा लिया है और अपने चिकित्सकीय शिविरों में 1,381 लोगों को सहायता पहुंचाई है. विदेश मंत्रालय ने एक बयान में इस बारे में जानकारी दी है.
इस देश में देवदूत बने भारतीय नेवी के जांबाज, बचाईं 192 जिंदगियां
3/7
चक्रवात प्रभावित मोजाम्बिक में राहत अभियान के तहत भारतीय नौसेना ने 192 से ज्यादा लोगों को सुरक्षित बचा लिया है और अपने चिकित्सकीय शिविरों में 1,381 लोगों को सहायता पहुंचाई है. विदेश मंत्रालय ने एक बयान में इस बारे में जानकारी दी है.
इस देश में देवदूत बने भारतीय नेवी के जांबाज, बचाईं 192 जिंदगियां
4/7
विदेश मंत्रालय ने एक बयान में बताया कि मोजाम्बिक के आग्रह पर भारत ने तत्काल कार्रवाई करते हुए नौसेना की तीन नौकाओं को बीरा बंदरगाह भेजा. बयान में कहा गया है कि भारतीय नौसेना ने अब तक 192 से अधिक लोगों को बचाया है. भारतीय नौसेना के चिकित्सकीय शिविरों में 1381 लोगों को चिकित्सकीय मदद मुहैया कराई गई है.
इस देश में देवदूत बने भारतीय नेवी के जांबाज, बचाईं 192 जिंदगियां
5/7
वहीं भारत ने इस चक्रवात में फंसे 36 भारतीयो को भी मुक्त करा लिया था. चक्रवात से अधिकांश मौतें बीरा शहर में हुईं- बंदरगाह हब और सोफाला प्रांत की राजधानी के शहर में जो बिजली लाइनों के दुर्घटनाग्रस्त होने के बाद लगभग कट गया है, हवाई अड्डे को भी बंद कर दिया गया और बाढ़ से सड़कें बह गईं हैं.
इस देश में देवदूत बने भारतीय नेवी के जांबाज, बचाईं 192 जिंदगियां
6/7
इस प्राकृतिक आपदा ने देश को झकझोर दिया और हजारों वर्ग किलोमीटर क्षेत्र बाढ़ की चपेट में है. पिछले सप्ताह शुक्रवार को मध्य मोजाम्बिक के तट से यह चक्रवात टकराया था, जिससे तेज हवाएं चली थीं और भारी बारिश हुई थी. 
इस देश में देवदूत बने भारतीय नेवी के जांबाज, बचाईं 192 जिंदगियां
7/7
इस प्राकृतिक आपदा ने देश को झकझोर दिया और हजारों वर्ग किलोमीटर क्षेत्र बाढ़ की चपेट में है. पिछले सप्ताह शुक्रवार को मध्य मोजाम्बिक के तट से यह चक्रवात टकराया था, जिससे तेज हवाएं चली थीं और भारी बारिश हुई थी. 
Advertisement
Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay