एडवांस्ड सर्च

'जब भी चूम लेता हूं उन हसीन आंखों को'...कैफ़ी आज़मी की एक नज़्म

कैफ़ी आज़मी का सरोकार फिल्मी दुनिया से रहा इनकी लिखीं ग़ज़ले और नज़्में बेहद मकबूल हुई हैं. कैफ़ी आज़मी ने एक नज़्म लिखी है जिसका नाम है 'एक लम्हा.' ये नज़्म महबूबा की आंखों में डूबने से लेकर ज़हन तक का सफर कराती है.

Advertisement
aajtak.in
रोहित 10 May 2018
'जब भी चूम लेता हूं उन हसीन आंखों को'...कैफ़ी आज़मी की एक नज़्म अपनी बेटी शबाना आजमी के साथ कैफी आजमी

अपने आंसुओं की स्याही से हमारा दर्द लिखने वाले कैफ़ी आज़मी हिन्दुस्तान के उम्दा शायरों में शुमार हैं. फिल्मों में गीत लिखना हो या मुशायरों में शेर पढ़ने हो, कैफ़ी का अंदाज़ आला दर्जे का था. उत्तर प्रदेश के आज़मगढ़ जिले के एक छोटे से गांव मिजवां में सन् 14 जनवरी 1919 में जन्मे कैफ़ी साहब का मूल नाम अख्तर हुसैन रिज़वी था. आज़मगढ़ से होने के कारण इन्हें आज़मी नाम मिला.

कैफ़ी आज़मी का सरोकार फिल्मी दुनिया से रहा इनकी लिखीं ग़ज़ले और नज़्में बेहद मकबूल हुई हैं. कैफ़ी आज़मी ने एक नज़्म लिखी है जिसका नाम है 'एक लम्हा.' ये नज़्म महबूबा की आंखों में डूबने से लेकर ज़हन तक का सफर कराती है.

कैफ़ी साहब की पुण्यतिथि पर आइए पढ़ते हैं उनकी ये नज़्म 'एक लम्हा.'

जब भी चूम लेता हूँ उन हसीन आँखों को

सौ चराग़ अँधेरे में झिलमिलाने लगते हैं.

ख़ुश्क ख़ुश्क होंटों में जैसे दिल खिंच आता है

दिल में कितने आईने थरथराने लगते हैं.

फूल क्या शगूफ़े क्या चाँद क्या सितारे क्या

सब रक़ीब क़दमों पर सर झुकाने लगते हैं.

ज़ेहन जाग उठता है रूह जाग उठती है

नक़्श आदमियत के जगमगाने लगते हैं.

इसे भी पढ़ें: नुक्कड़ पर खड़े होकर सत्ता का नाटक दिखाते थे सफ़दर हाशमी

लौ निकलने लगती है मंदिरों के सीने से

देवता फ़ज़ाओं में मुस्कुराने लगते हैं.

रक़्स करने लगती हैं.. मूरतें अजंता की

मुद्दतों के लब-बस्ता ग़ार गाने लगते हैं.

फूल खिलने लगते हैं.. उजड़े उजड़े गुलशन में

इसे भी पढ़ें: इंसान भावनाओं का बना होता है, यही इसकी खासियत भी है और शायद अभिशाप भी

तिश्ना तिश्ना गीती पर अब्र छाने लगते हैं.

लम्हा भर को ये दुनिया ज़ुल्म छोड़ देती है

लम्हा भर को सब पत्थर मुस्कुराने लगते हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay