एडवांस्ड सर्च

वायरल टेस्ट: क्या है जमीन पर लोट-लोट कर वोट की भीख मांगने वाले युवकों की तस्वीर का सच!

आजतक ने वायरल टेस्ट क‍िया क‍ि शिक्षा के मंदिर में राजनीति इतनी पतित हो गई कि छात्र नेता वोट के लिए अब पांव पकड़ने लगे. छात्र नेता भी तो छात्र हैं तो क्या वाकई एक छात्र दूसरे छात्र का पांव पकड़कर वोटों की भीख मांग रहा है. ये खबर चौंकाने वाली थी.

Advertisement
aajtak.in
अनिल कुमार/ श्याम सुंदर गोयल नई दि‍ल्ली, 27 October 2018
वायरल टेस्ट: क्या है जमीन पर लोट-लोट कर वोट की भीख मांगने वाले युवकों की तस्वीर का सच! जमीन पर लोट-लोट कर भीख मांगने वाले युवकों की तस्वीर (Photo: Facebook)

हाथ जोड़कर.. पांव पकड़कर भीख मांगने वाले भिखारियों को तो आपने देखा होगा, लेकिन वोट के लिए पांव पर गिरने वाले नेताओं को नहीं देखा होगा. सोशल मीडिया पर एक तस्वीर वायरल हो गई है, जिसमें कुछ लोग राह चलते लोगों के पांव पकड़ रहे हैं. दावा किया जा रहा है कि ये छात्र संघ चुनाव में वोट पाने का नेताओं का नया फार्मूला है.

शक्ल से तो ये भिखारी नहीं लगते, पहनावे से भी नहीं लगते. तस्वीर में साफ दिख रहा है कि इन लोगों ने कुर्ता पजामा पहन रखा है तो फिर इस तरह ये रास्ते में क्यों लेटे हैं. क्यों ये आ जा रहे लोगों के पांव पकड़ रहे हैं. इस रास्ते में चलने वालों की सांसत हो जा रही है. किसकी सुनें, किसकी ना सुनें क्योंकि हर कोई यहां हाथ जोड़ रहा है, पांव पकड़ रहा है.

इस तस्वीर को देखकर कुछ समझ में आया आपको...इन सफेद वस्त्रधारी फकीरों की तस्वीरें सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही हैं. व्हाट्सएप, ट्विटर और फेसबुक पर ये तस्वीरें इधर से उधर हो रही हैं. पंकज श्रीवास्तव नाम के फेसबुक यूजर ने इस तस्वीर को पोस्ट करके लिखा, "अगर ये खबर सच है तो तय मानिए भारतीय राजनीति का इससे भी काला दिन आने वाले समय में देखने को मिलेगा. खबर बता रही है काशी विद्यापीठ छात्रसंघ चुनाव में मतदान के लिए जाते छात्र-छात्राओं से ये प्रत्याशी वोट की अपील कर रहे हैं.

सोशल मीडिया पर इन तस्वीरों को लेकर जो दावा किया जा रहा था उसके मुताबिक ये तस्वीरें काशी विद्यापीठ छात्र संघ चुनावों की हैं. इन तस्वीरों में दिख रहे छात्र नेता वोटर छात्रों के पांव पकड़ रहे हैं. छात्र नेता, छात्रों से वोट की भीख मांग रहे हैं.

तो क्या शिक्षा के मंदिर में राजनीति इतनी पतित हो गई कि छात्र नेता वोट के लिए अब पांव पकड़ने लगे. छात्र नेता भी तो छात्र हैं तो क्या वाकई एक छात्र दूसरे छात्र का पांव पकड़कर वोटों की भीख मांग रहा है. ये खबर हमारे लिए चौंकाने वाली थी. लिहाजा हमनें इसका वायरल टेस्ट किया.

वायरल टेस्ट में आया ये सच सामने

हमारी पड़ताल में पता चला कि ये तस्वीरें वाकई काशी विद्यापीठ के छात्र संघ चुनाव के दौरान की हैं जिसमें वोटर्स को मनाने के लिए चुनाव में खड़े प्रत्याशियों ने सारी सीमाएं तोड़ दीं और वोट देने जा रहे वोटर्स के पैरों पर गिरकर एक-एक वोट की भीख मांगी. अब इसे छात्र राजनीति का पतन कहें या फिर धरती पकड़ राजनीति की तस्वीर, छात्र संघ चुनाव में खड़े प्रत्याशियों ने तो कमाल ही कर दिया. ये नेता कभी छात्रों के पैरों को पकड़कर वोट मांगते दिखे तो कभी हाथ जोड़कर वोट मांगते दिखे. मजे की बात कि पुलिस वाले भी इनके बीच से गुजर रहे थे , लेकिन उनका ध्यान कहीं और था.

इन धरती पकड़ नेताओं के इस कारनामे के चलते वोट देने आए छात्रों को चार-पांच मिनट का रास्ता 15 मिनट में पूरा करना पड़ा. इनमें कोई नवरात्र में पांव पकड़कर आशीर्वाद लेने को सही ठहरा रहा है तो कोई कह रहा है कि अपना राजनीतिक करियर बनाने के लिए जो भी करना पड़ेगा, वो करेंगे.

इसी के साथ ही काशी विद्यापीठ छात्र संघ चुनाव की तस्वीर और उससे जुड़ी ये खबर हमारे वायरल टेस्ट में पास हो गई.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay