एडवांस्ड सर्च

Advertisement

असम में कांग्रेस जीत की ओर अग्रसर

असम में सत्तारूढ़ कांग्रेस 126 सदस्यीय विधानसभा में से अब तक 77 सीटों पर आगे चल रही है जबकि दो पर जीत दर्ज कर लगातार तीसरी बार राज्य की सत्ता पर काबिज होने जा रही है.
असम में कांग्रेस जीत की ओर अग्रसर
भाषागुवाहाटी, 13 May 2011

असम में सत्तारूढ़ कांग्रेस 126 सदस्यीय विधानसभा में से अब तक 77 सीटों पर आगे चल रही है जबकि दो पर जीत दर्ज कर लगातार तीसरी बार राज्य की सत्ता पर काबिज होने जा रही है.

कांग्रेस ने असम के 13वें विधानसभा के लिए तियोक और बोकाजन (सुरक्षित) सीटों पर जीत के साथ अपना खाता खोल लिया है.

तियोक सीट पर कांग्रेस के मेम्बोर गोगोई ने 29,899 वोटों के अंतर से एजीपी के हेमंत कलीता को हराया. इस जीत के साथ विधानसभा में लगातार तीसरी बार उनकी वापसी सुनिश्चित हो गई है.

बोकाजन (सुरक्षित) सीट पर कांग्रेस के किंगदूंग एंगती ने निर्दलीय उम्मीदवार जगत सिंह एंगती को 16,809 मतों के अंतर से हरा दिया.

अब तक प्राप्त 126 सीटों के रूझान के मुताबिक कांग्रेस की सहयोगी बोडोलैंड पीपुल्स फ्रंट (बीपीएफ) बोडोलैंड जिलों में अच्छा प्रदर्शन करते हुए 12 सीटों पर आगे चल रही है.

हालांकि, कांग्रेस अकेले ही सरकार बनाने की स्थिति में दिख रही है लेकिन गोगोई ने कहा कि कांग्रेस को अकेले बहुमत हासिल हो जाने की स्थिति में भी सहयोगी दल-बोडोलैंड पीपुल्स फ्रंट (बीपीएफ) सरकार का हिस्सा बनी रहेगी क्योंकि इसने मुश्किल घड़ी में कांग्रेस की मदद की है.

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘हम बीपीएफ के साथ अपना गठबंधन जारी रखेंगे क्योंकि उसने मुश्किल घड़ी में हमारी मदद की थी.’

गोगोई टीटाबार सीट पर बढ़त बनाए हुए हैं. कांग्रेस उम्मीदवार भूमिधर वर्मन बरखेत्री सीट पर, नुरजमाल सरकार (विश्वनाथ), नजरूल इस्लाम (लहोरीघाट), हिमंत विश्व शर्मा (जलुकबाड़ी), गौतम बोरा (बाताद्राबा), प्रद्युत बोरदोलोई (मार्गहारिता), अजंता नियोग (गोलाघाट), अकन बोरा (दिसपुर) भारत नारह धकुवाखना सीट पर आगे चल रहे हैं. विधानसभा अध्यक्ष टंका बहादुर राय बारचाला सीट पर और विधानसभा उपाध्यक्ष प्रणति फूकन नहरकटिया सीट पर आगे हैं. असम गण परिषद के अध्यक्ष चंद्रमोहन पटवारी (धरमपुर), पार्टी के पूर्व अध्यक्ष वृंदावन गोस्वामी (तेजपुर), पार्टी महासचिव हितेन गोस्वामी (जोरहाट), नलबाड़ी के मौजूदा विधायक अलका देसाई शर्मा मतगणना में पीछे चल रहे हैं.

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष और बिहाली के मौजूदा विधायक रंजीत दत्ता, करीमगंज उत्तर के मौजूदा विधायक और विधानसभा में पार्टी के नेता मिशन रंजन दास तथा डिब्रूगढ़ के मौजूदा विधायक प्रशांत फूकन भी पीछे चल रहे हैं.

दो बार मुख्यमंत्री रहे और विपक्ष के नेता प्रफुल्ल कुमार महंत बहरमपुर सीट पर आगे चल रहे हैं लेकिन वह सामागुड़ी सीट पर पीछे हो गए हैं.

असम के स्वास्थ्य मंत्री और कांग्रेस उम्मीदवार डॉ. हिमंत शर्मा जलुकबाड़ी सीट से लगातार तीसरी बार जीते. उन्होंने भाजपा के अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी प्रद्युत कुमार बोरा को 77,161 वोटों के रिकार्ड अंतर से हराया.

सूतिया सीट से एजीपी की मौजूदा विधायक पदमा हजारिका, नवगोंग से गिरिंद्र कुमार बरूआ और कोलीयाबोर सीट पर केशव महंत आगे चल रहे हैं. उल्फा के पूर्व उग्रवादी और मौजूदा निर्दलीय विधायकों के चुनाव रूझान मिश्रित हैं. बोकाखाट के विधायक जितेन गोगोई कांग्रेस के उम्मीदवार से पीछे चल रहे हैं जबकि थोवड़ा के विधायक कुशल दुवाड़ी कांग्रेस के अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी से आगे हैं.

एजीपी के पूर्व मंत्री अतुल बोरा (दिसपुर), रामेंद्र नारायण कलीता (गुवाहाटी पश्चिम), और जगदीश भुइयां सादीया सीट पर पीछे चल रहे हैं.

मौजूदा विधायक और कांग्रेस के पूर्व मंत्री कैप्टन रॉबिन बोरदोलोई (गुवाहाटी ईस्ट), पूर्व लोकसभा सदस्य किरीप चालीहा (हाजो), पूर्व केंद्रीय मंत्री संतोष मोहन देव की बेटी सुष्मिता देव (सिलचर), केंद्रीय मंत्री और सांसद पवन सिंह घटोवर की पत्नी और मोरन से मौजूदा विधायक जिबोनतारा घटोवर भी आगे हैं.

बीपीएफ उम्मीदवार और कृषि मंत्री प्रमिला रानी ब्रह्म कोकराझाड़ पश्चिम सीट पर बढ़त बनाए हुए हैं जबकि उनकी पार्टी के दो अन्य मंत्री चंदन ब्रह्म (सिदली) और रिहोन देमेरी उदलगुड़ी (सुरक्षित) सीट पर भी बढ़त बनाए हुए हैं.

कांग्रेस के पूर्व मंत्री सरत बारकाटोकी (सोनारी) और फनीभूषण चौधरी बोंगईगांव सीट पर आगे चल रहे हैं.

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay