एडवांस्ड सर्च

सरकार गठन राकांपा विधायक दल के नेता के चुनाव के बाद: चव्हाण

अशोक चव्हाण ने रविवार को कहा कि उन्हें सोमवार को राकांपा के विधायक दल का अपना नेता चुन लेने के बाद शुरू होने वाली सरकार गठन की कवायद में कोई समस्या आने की संभावना नहीं नजर आती.

Advertisement
मुंबईभाषा, 25 October 2009
सरकार गठन राकांपा विधायक दल के नेता के चुनाव के बाद: चव्हाण

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद पर ताजपोशी के लिये कांग्रेस आला कमान के अनुमोदन के बाद अशोक चव्हाण ने रविवार को कहा कि उन्हें सोमवार को राकांपा के विधायक दल का अपना नेता चुन लेने के बाद शुरू होने वाली सरकार गठन की कवायद में कोई समस्या आने की संभावना नहीं नजर आती. चव्हाण ने स्पष्ट कर दिया कि सरकार गठन की प्रक्रिया में नवनिर्वाचित विधानसभा में कांग्रेस और राकांपा की ताकत को ध्यान में रखा जायेगा.

उन्होंने संकेत दिया कि उसके सहयोगी दल को अपने उन मलाईदार विभागों को छोडना पड़ सकता है जो निवर्तमान सरकार में उसके पास थे. चव्हाण के लिये मुख्यमंत्री पद पर दोबारा ताजपोशी को पार्टी की ओर से मिला अनुमोदन उन्हें समय से पहले मिला जन्मदिन का तोहफा है. उन्होंने यह भी कहा कि राज ठाकरे की महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) से समर्थन लेने का ‘सवाल नहीं उठता’ जिसने 13 सीट जीतकर अपना खाता खोला है. चव्हाण बुधवार को 51 वर्ष के होने जा रहे हैं.

इस बार के राज्य विधानसभा चुनावों में कांग्रेस-राकांपा को 144 सीट मिली है और यह आंकड़ा 288 सदस्यीय विधानसभा में बहुमत से एक सीट कम है. कांग्रेस 82 सीटों पर विजयी हुई है और राकांपा ने 62 सीट जीती है. निवर्तमान सरकार में राकांपा के 24, जबकि कांग्रेस के 19 मंत्री थे. अपनी दूसरी पारी को ‘टेस्ट मैच’ करार देते हुए चव्हाण ने कहा कि सरकार बनाने में किसी तरह की बाधा नहीं आयेगी लेकिन उन्होंने यह कहते हुए इस बारे में कोई और विवरण देने से इनकार कर दिया कि राकांपा से बातचीत किये बगैर इस मुद्दे पर कुछ भी बोलना अनुचित होगा.

मुख्यमंत्री पद की दूसरी पारी में उनकी प्राथमिकताओं के बारे में चव्हाण ने कहा ‘‘यह टैस्ट मैच होगा न कि एक दिवसीय मैच.’’ राकांपा सूत्रों ने मुंबई में कहा कि राकांपा विधायक दल का नया नेता उप मुख्यमंत्री होगा. निवर्तमान सरकार में जल संसाधन मंत्री और राकांपा प्रमुख शरद पवार के भतीजे अजीत पवार इस पद की दौड़ में शीर्ष पर बने रहते प्रतीत होते हैं. बहरहाल, मौजूदा उप मुख्यमंत्री छगन भुजबल भी इस पद के इच्छुक हैं.

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay