साहित्य आजतक: 'लेखक समाधान देते ही फेल हो जाता है'