तालिबान की राह पर हिंदुत्व: शशि थरूर