एडवांस्ड सर्च

बुलंदशहर: इंस्पेक्टर सुबोध सिंह को कुल्हाड़ी मारने वाला गिरफ्तार

बताया जा रहा है कि कलवा वही शख्स है जिसने हिंसा फैलने के बाद इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह पर कुल्हाड़ी से वार किया था. कलवा हिंसा के दौरान मुख्य आरोपी प्रशांत नट के साथ मौके पर मौजूद था. उसे स्याना पुलिस ने देर रात गिरफ्तार किया है.

Advertisement
aajtak.in [ Edited By: आदित्य बिड़वई ]बुलंदशहर , 01 January 2019
बुलंदशहर: इंस्पेक्टर सुबोध सिंह को कुल्हाड़ी मारने वाला गिरफ्तार इंस्पेक्टर सुबोध सिंह.

उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में हिंसा के दौरान इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह की हत्या मामले के में एक और आरोपी कलवा को गिरफ्तार किया गया है. बताया जा रहा है कि कलवा वही शख्स है जिसने हिंसा फैलने के बाद इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह पर कुल्हाड़ी से वार किया था. कलवा हिंसा के दौरान मुख्य आरोपी प्रशांत नट के साथ मौके पर मौजूद था. उसे स्याना पुलिस ने देर रात गिरफ्तार किया है.

इसके पहले पुलिस ने इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह पर गोली चलाने के मुख्य आरोपी प्रशांत नट को भी गिरफ्तार किया था.  इसके बाद उसे सीजेएम कोर्ट में पेश कर 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया था.

मालूम हो कि प्रशांत ने इंस्पेक्टर की पिस्तौल छीनकर उनकी आंख के पास गोली मारी थी, जिससे उनकी मौत हो गई. घटना के दो चश्मदीदों ने भी इंस्पेक्टर को गोली मारने में प्रशांत की पहचान की थी. वहीं, एसआईटी अब भी इस मामले से जुड़े कई अन्य लोगों से पूछताछ कर रही है.

कैसे हुई थी इंस्पेक्टर की हत्या...

प्रशांत ने खुलासा किया था कि हिंसा के दिन इंस्पेक्टर पहले घायल हो गए थे, क्योंकि पत्थरों से उन पर हमला किया गया था. हिंसा में मारे गए सुमित ने कई लोगों के साथ इंस्पेक्टर को खेत में दौड़या था. इसके जवाब में इंस्पेक्टर ने फायर किया तो गोली सुमित को जा लगी. उसके बाद इंस्पेक्टर को पीछे से प्रशांत ने पकड़ा और फिर उन्हीं की पीस्टल छीन कर गोली मार दी थी, पुलिस ने प्रशांत को गिरफ्तार करने के बाद घटना की जगह ले जाकर सीन को रिक्रिएट भी किया है.

गौरतलब है कि पिछले साल दिसंबर के माह में बुलंदशहर के चिंगरावटी पुलिस चौकी पर भीड़ की हिंसा के बाद इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह की हत्या कर दी गई थी. भीड़ के इस हमले में इंस्पेक्टर सुबोध के अलावा एक अन्य युवक की मौत हो गई थी. इस हिंसा के सिलसिले में पुलिस ने अब तक 22 लोगों को गिरफ्तार किया है. एसआईटी की टीम हिंसा की घटना की जांच कर रही है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay