एडवांस्ड सर्च

58 नई ट्रेनें, 21 हजार नई नौकरियां और अब भारतीय रेल कराएगी चारधाम की यात्रा

बजट में 21 हजार नई नौकरियों की घोषणा भी रेलमंत्री सदानंद गौड़ा ने की, जिसके तहत महिला और पुरुष कॉन्स्टेबल भर्ती किए जाएंगे. जबकि पहली बुलेट ट्रेन प्रधानमंत्री मोदी के गृहराज्य अहमदाबाद से मुंबई के बीच चलेगी.  मोदी ने क्या कहा । आपके फायदे की चीज । 58 नई ट्रेनें । किसने क्या कहा । 139 होगा टोल फ्री । रेल न्यूज । रेल बजट मुख्य अंश

Advertisement
aajtak.in [Edited by: नंदलाल शर्मा]नई दिल्‍ली, 09 July 2014
58 नई ट्रेनें, 21 हजार नई नौकरियां और अब भारतीय रेल कराएगी चारधाम की यात्रा रेलमंत्री सदानंद गौड़ा

मजबूत जनादेश पर सवार होकर आई मोदी सरकार के पहले रेल बजट में रेलमंत्री सदानंद गौड़ा ने जनता को खुश करने की पूरी कोशिश की. रेल किराए में बढ़ोतरी के बाद सुविधाओं की मांग को देखते हुए बुलेट ट्रेन, प्रीमियम ट्रेन के साथ स्टेशनों को एयरपोर्ट की तरह विकसित करने की घोषणाएं की. बजट में 21 हजार नई नौकरियों की घोषणा भी रेलमंत्री ने की, जिसके तहत महिला और पुरुष कॉन्स्टेबल भर्ती किए जाएंगे. जबकि पहली बुलेट ट्रेन प्रधानमंत्री मोदी के गृहराज्य अहमदाबाद से मुंबई के बीच चलेगी.

मोदी सरकार का पहला रेल बजट पेश करते हुए रेलमंत्री सदानंद गौड़ा ने कहा कि रेलवे भारतीय अर्थव्यवस्था की आत्मा है. दो करोड़ तीस लाख यात्री रोजाना रेलवे में सफर करते है और देश भर में करीब 7 हजार रेलवे स्‍टेशन है. पिछले सालों में किराया कम करने से रेलवे को बहुत नुकसान हुआ है. किराए में संशोधन ना होने से सुविधाओं में गिरावट आई और लोकलुभावन फैसलों से रेलवे की दुगर्ति हुई है. एक रुपये कमाने के लिए रेलवे 96 पैसे खर्च करती है. रेलवे को अभी एक करोड़ 83 लाख रुपये की जरूरत है.

कैबिनेट से FDI की इजाजत लेंगे
रेल मंत्री ने कहा कि अगले दस सालों में विकास के लिए रेलवे को तकरीबन 50 हजार करोड़ रुपये की जरूरत है. रेलवे में PPP के जरिए रेवेन्‍यू बढ़ाने की जरूरत है. हाईस्‍पीड नेटवर्क की जरूरत पर भी रेल मंत्री ने अपने बजट में बल दिया. गौड़ा ने कहा कि कैबिनेट से रेलवे में FDI की इजाजत मांगी जाएगी. इस बार माल ढ़ुलाई में बढ़ोतरी होने की उम्‍मीद है.

पीपीपी मॉडल से चमकेगी किस्‍मत
रेल मंत्री ने कहा कि पीपीपी मॉडल से रेलवे की किस्‍मत चमकाई जाएगी. मंत्री ने कहा कि जहां-जहां रिटायरिंग रूम उपलब्‍ध हैं, वहां उनकी ऑनलाइन बुकिंग शुरू की जाएगी. हर बड़े स्‍टेशन में लिफ्ट, स्‍वच्‍छ पानी के लिए आरओ यूनिट और एस्‍केलेटर लगाए जाएंगे. रेलवे में फूड कोर्ट खोले जाएंगे. बुजुर्गों के लिए स्टेशन पर बैटरी वाली कार चलाई जाएगी. मोबाइल फोन और पोस्ट ऑफिस से टिकट की बुकिंग होगी.

तीर्थ यात्रा स्‍पेशल ट्रेन दौड़ेंगी
मंत्री ने कहा कि इस बार 4 हजार महिला कांस्‍टेबल की भर्ती की जाएगी. उन्‍होंने कहा कि धार्मिक यात्राओं के लिए अलग से ट्रेन शुरू की जाएंगी. मंत्रालय की ओर से धार्मिक स्‍थलों का आकलन शुरू कर दिया गया है. रेल मंत्री ने कहा कि 50 रेलवे स्‍टेशनों में साफ सफाई आउटसोर्स की जाएगी. इसके अलावा रेलवे कर्मियों के लिए अस्‍पतालों की संख्‍या बढ़ाई जाएगी. 7200 टिकट हर मिनट देने की व्‍यवस्‍था की जाएगी.

रेलमंत्री के भाषण के मुख्य अंश
1. फुटओवर ब्रिज, लिफ्ट, एस्केलेटर पीपीपी सभी प्रमुख स्टेशनों पर
2. पानी, टॉयलेट, शेल्टर सभी स्टेशनों पर
3. बैटरी ऑपरेटेड कॉर्स अपाहिजों और वृद्धों के लिए, सभी प्रमुख स्टेशनों पर
4. लोग, एनजीओ, ट्रस्ट, कॉरपोरेट पैसेंजर सुविधाओँ के लिए
5. वैल्यू टू टाइम, वर्क स्टेशन होंगे ट्रेन के अंदर
6. रेलवे रिटायर रूम के लिए ऑनलाइन बुकिंग सभी स्टेशनों के लिए उपलब्ध होगी
7. कैटरिंग प्रमुख चिंता रही है. क्वालिटी और हाईजीन के लिए और वैरायटी के लिए प्री बुक्ड रैप्युटेड ब्रैंड मील, क्वालिटी ऑडिट इंश्योरेंस थर्ड पार्टी करेगी. लोगों से फीडबैक लिया जाएगा. अगर सर्विस सही नहीं मानी गई, हाईजीन और टेस्ट के मामले में, तो एक्शन लिया जाएगा वेंडर के खिलाफ.
8. बड़े स्टेशनों पर फूड कोर्ट, रीजनल कुजीन पर ईमेल, एसएमएस के जरिए ट्रेन से खाना ऑर्डर कर सकते हैं. न्यू दिल्ली, अमृतसर और जम्मू तवी पर पायलट प्रोजेक्ट के तहत पहले से पके हुए और खाने के लिए तैयार भोजन की व्यवस्था.
9. क्षेत्रीय स्वाद के लिए प्रमुख स्टेशनों पर फूड कोर्ट की सुविधा. नई दिल्ली-अमृतसर और नई दिल्ली-जम्मू तवी मार्ग पर पायलट परियोजना.
10. स्वच्छता पर खर्च में 40 फीसदी वृद्धि. स्टेशनों पर सफाई व्यवस्था की सीसीटीवी से निगरानी.
11. स्वामी विवेकानंद की शिक्षाओं पर विशेष रेलगाड़ी.
12. 2014-15 के लिए आय लक्ष्य 1,64,374 करोड़ रुपये, व्यय लक्ष्य 1,49,176 करोड़ रुपये.
13. किराया वृद्धि से 8,000 करोड़ रुपये की अतिरिक्त आय. स्वर्ण चतुर्भुज परियोजना के लिए अतिरिक्त 9,000 करोड़ रुपये की जरूरत.
14. रक्षा संस्थानों की आपूर्ति श्रृंखला की रीढ़.
15. एक अरब टन सालाना माल ढुलाई.
16. 2013-14 में यात्री वृद्धि दर घटी.
17. आधुनिकीकरण के लिए पांच साल में पांच लाख करोड़ रुपये की जरूरत.
18. 2013-14 में 1,39,550 करोड़ रुपये आय, व्यय 1,30,321 करोड़ रुपये.
19. प्रत्येक एक रुपये की आय के लिए 94 पैसे की व्यय. छह पैसे का मुनाफा.
20. 12,500 रेलगाड़ियों से रोज 2.3 करोड़ यात्री सफर करते हैं, जो आस्ट्रेलिया की जनसंख्या के बराबर है.
21. विश्व में सबसे बड़ी माल ढुलाई सेवा बनने का लक्ष्य.
गांधी जी के सपनों के मुताबिक रेलवे को बनाएंगे स्वच्छ
22. 40 फीसदी बजट सिर्फ सफाई के लिए
23. 50 स्टेशनों पर हाउस क्लीनिंग स्टोर आउटसोर्स किया जा रहा है.
24. सफाई के लिए सीसीटीवी यूज होंगे
25. ऑल इंडिया हेल्पलाइन नंबर होगा
26. थर्ड पार्टी चेकिंग डायरेक्ट डिस्चार्ज के लिए नई तकनीक लाई जाएगी, ये तकनीक पहले से ही 400 ट्रेनों में है.
27. मैकेनाइज्ड लॉन्ड्री को बेहतर किया जाएगा.
24. आरओ ड्रिंकिंग वॉटर यूनिट स्टेशन और ट्रेन में.
29. एनजीओ और दूसरों को स्टेशन अडॉप्ट करने के लिए प्रेरित किया जाएगा.
30. रोड ओवर और अंडर ब्रिज के लिए 1785 करोड़ रुपये.
31. 11563 क्रॉसिंग अनमैंड हैं. इनकी जांच कर सूटेबल मॉडेलिटी के जरिए हटाया जाएगा.
32. पायलट प्रोजेक्टः अल्ट्रासोनिक ब्रोकन रेलवे डिटेक्शन सिस्टम
33. पायलट प्रोजेक्टः ऑटोमैटिक क्लोजिंग ऑफ डोर
34. 17 हजार आरपीएफ कॉन्स्टेबल
35. 4 हजार वुमन कॉन्स्टेबल
36. लेडीज कोच को एस्कॉर्ट करेंगी. इनके पास मोबाइल फोन होंगे. लोग फोन कर सकते हैं.
37. स्टेशन के इर्द गिर्द बाउंड्री वॉल डोमेस्टिक टूरिज्म, इको और एजुकेशन टूरिज्म नॉर्थ ईस्ट में. तीर्थयात्री सर्किट, नेक्स्ट जेनरेशन ई टिकटिंग फोन, पोस्ट ऑफिस के जरिए. 1 मिनट में 7200 टिकट पर मिनट, मौजूदा समय में 1 मिनट में 2 हजार टिकट.
38. ऑटोमैटिक टिकट वेंडिंग मशीन, इंटरनेट के जरिए प्लेटफॉर्म और पार्किंग कम प्लेटफॉर्म टिकट मिलेंगे.
रेलवे बोर्ड
1. 13.1 लाख का स्टाफ
2. मेरिटोरियस वॉर्ड्स के लिए स्पेशल स्कीम
3. हॉस्पिटल मैनेजमेंट स्कीम
4. लोकल केबिन्स और रनिंग रूम्स में एसी
5. रेलवे यूनिवर्सिटी टेक्निकल और नॉन टेक्निकल सब्जेक्ट के लिए, रेलवे ओरएंटेड सब्जेक्ट.
6. ग्राउंड लेवल स्टाफ टेक्निकल और नॉन टेक्निकल कोर्स के लिए भेजे जाएंगे.

 

इससे पहले गौड़ा ने कहा, 'रेलवे को राजनीति के लिए इस्‍तेमाल किया गया. रेलवे दस साल से बदहाली झेल रहा है, सुरक्षा और सुविधा रेलवे के लिए अहम मुद्दे है. साथ ही महिलाओं की सुरक्षा भी रेलवे के लिए महत्वपूर्ण है.'

गौरतलब है कि बजट से कुछ ही दिन पहले मोदी सरकार ने किराए में 14.2 प्रतिशत की वृद्धि की घोषणा की थी. जिसका विपक्षी पार्टियों ने काफी विरोध किया था और मोदी सरकार पर महंगाई को बढ़ावा देने का आरोप लगाया था. बजट सत्र के पहले दिन संसद में इसे लेकर काफी गतिरोध देखा गया. इन सबके बीच आम जनता को उम्मीद है कि किराया बढ़ाने वाली मोदी सरकार रेलवे की स्थिति सुधारेगी और लोगों को बेहतर सुविधाएं मिलेगी. 

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay