एडवांस्ड सर्च

Advertisement

बीच सड़क लगा दी अपनी रॉयल इनफील्ड थंडरबर्ड में आग, ये थी वजह

aajtak.in [Edited By:अंकुर कुमार]
10 October 2018
बीच सड़क लगा दी अपनी रॉयल इनफील्ड थंडरबर्ड में आग, ये थी वजह
1/7
एक शख्स अपनी हरकत की वजह से सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. उसने अपनी लाखों की कीमत वाली ड्रीम बाइक को पेट्रोल डालकर आग लगा दी. इससे पहले आप उसे लेकर कोई राय बनाए हम आपको बता देते हैं कि उस शख्स ने आखिर ऐसा क्यों किया.
बीच सड़क लगा दी अपनी रॉयल इनफील्ड थंडरबर्ड में आग, ये थी वजह
2/7
घटना गोवा की है. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार शख्स का नाम अनवर राजगुरु है. उसने 19 मार्च, 2009 को बड़े ही मन से अपनी ड्र‍ीम बाइक रॉयल एनफील्ड थंडरबर्ड मोटरसाइकिल खरीदी थी.
बीच सड़क लगा दी अपनी रॉयल इनफील्ड थंडरबर्ड में आग, ये थी वजह
3/7
हालांकि बाइक खरीदते ही अनवर पर आरोप लगा कि उसने इस बाइक को खरीदने के लिए फर्जी कागजात का इस्तेमाल किया था. इसके बाद कोर्ट के आदेश के बाद यह बाइक जब्त हो गई और इसे लेकर 7 साल तक कोर्ट में केस चला.
बीच सड़क लगा दी अपनी रॉयल इनफील्ड थंडरबर्ड में आग, ये थी वजह
4/7
7 साल लंबे ट्रायल के बाद केस खत्म होने के बाद भी उसे बाइक मिलने में काफी देरी हुई. गोवा पुलिस और ट्रांसपोर्ट अथॉरिटी की लेटलतीफी के कारण अनवर को बाइक काफी देर से मिली.
बीच सड़क लगा दी अपनी रॉयल इनफील्ड थंडरबर्ड में आग, ये थी वजह
5/7
कोर्ट ने अनवर राजगुरु को यह कहते हुए बरी कर दिया कि यह नहीं कहा जा सकता कि उसका कथित फर्जी वोटर आईडी कार्ड फर्जी ही था. जब अनवर की बाइक उसे वापस मिली तो उसे कोर्ट में बाइक का 5 साल का इंश्योरेंस और आरटीओ पेनल्टी जमा करनी पड़ी.

बीच सड़क लगा दी अपनी रॉयल इनफील्ड थंडरबर्ड में आग, ये थी वजह
6/7
हालांकि अनवर को बाइक मिलने से खुशी से ज्यादा मानसिक परेशानी होने लगी. पूरी घटना से अनवर इस कदर नाराज था कि जब भी वह बाइक को देखता तो वह चिड़चिड़ापन महसूस करता था. यही वजह रही कि अनवर राजगुरु ने अपने इस चिड़चिड़ेपन से छुटकारा पाने के लिए बाइक को आग लगाने का फैसला किया.
बीच सड़क लगा दी अपनी रॉयल इनफील्ड थंडरबर्ड में आग, ये थी वजह
7/7
मीडिया रिपोर्ट के अनुसार पूरे सिस्टम को अपनी नाराजगी से अवगत कराने के लिए अनवर राजगुरु ने अपनी बाइक में ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट कोर्ट की बिल्डिंग के सामने ही जलाई. वीडियो में वह अपनी पार्क बाइक के पास एक स्कूटी से आते दिखा. फि‍र उसने बाइक पर पेट्रोल डाली और उसे आग के हवाले कर दिया. आग लगने की रिपोर्ट मिलने के बाद फायर डिपार्टमेंट ने आकर आग बुझाई और बाइक को वहां से हटाया. अनवर के अनुसार लोग ये देख रहे हैं कि एक आदमी बाइक को आग लगा रहा है, लेकिन वह यह देख नहीं पा रहे कि उस बाइक से उस आदमी को कितना कष्ट हो रहा था. अनवर के अनुसार मोटरसाइकिल को आग लगाकर उस परेशानी से निजात पा ली. अनवर के अनुसार वह और किसी को चोट नहीं पहुंचाना चाहता था इसलिए उसने कोर्ट के सामने आग लगाने का फैसला बदल दिया क्योंकि वहां पर कई ठेले वाले खड़े थे और यहां भी उसने एक कार वाले को आगे चले जाने की रिक्वेस्ट की थी.
Advertisement
Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay