एडवांस्ड सर्च

Advertisement
Assembly Elections 2018

'मौत के 4 घंटे बाद जिंदा हुई लाश', बेटों ने मुंडवा लिया था सिर

शरत कुमार [Edited by: अभिषेक आनंद]
06 November 2018
'मौत के 4 घंटे बाद जिंदा हुई लाश', बेटों ने मुंडवा लिया था सिर
1/5
राजस्थान में एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है. यहां एक व्यक्ति की कथित मौत के बाद परिजनों ने अंतिम संस्कार की पूरी तैयारी कर ली थी. लोगों ने मान लिया था, वह व्यक्ति अब दुनिया में नहीं रहा. लेकिन 4 घंटे बाद सब कुछ बदल गया.
'मौत के 4 घंटे बाद जिंदा हुई लाश', बेटों ने मुंडवा लिया था सिर
2/5
मामला राजस्थान के झुंझुनू के खेतड़ी इलाके का है. स्थानीय लोगों के बीच इस पर खूब चर्चा हो रही है कि बबाई गांव के पास ढाणी भगतावाला में एक 95 वर्षीय बुजुर्ग मौत के चार घंटे बाद पुनर्जीवित हो गए.
'मौत के 4 घंटे बाद जिंदा हुई लाश', बेटों ने मुंडवा लिया था सिर
3/5
बालूराम और रणजीत ने बताया कि दोपहर करीब 1.30 बजे उनके पिताजी बुद्धराम गुर्जर की मृत्यु हो गई थी. तमाम रिश्तेदारों को जानकारी दे दी गई थी. अंतिम संस्कार की तैयारी भी कर ली गई. मुखाग्नि देने के लिए पुत्रों ने मुंडन भी करवा लिया.
'मौत के 4 घंटे बाद जिंदा हुई लाश', बेटों ने मुंडवा लिया था सिर
4/5
लेकिन जैसे ही उन्हें रिवाजों के तहत नहाने के लिए ले गए, लोगों ने महसूस किया कि उनकी बॉडी में सांसें आ गई हैं. उन्हें खाट पर लिटाया गया. कुछ समय बाद ही वे अच्छी तरह बोलने लगे. परिजनों और रिश्तेदारों में खुशी की लहर दौर गई. लोग भगवान का चमत्कार मानकर पूजा पाठ करने लगे.
'मौत के 4 घंटे बाद जिंदा हुई लाश', बेटों ने मुंडवा लिया था सिर
5/5
बुद्धराम गुर्जर के बेटे बालूराम ने कहा कि हम लोग अंतिम संस्कार की तैयारी कर रहे थे, तभी अचानक से शरीर में हलचल हुई. जब हमने कान लगाकर धड़कन सुनी तो हल्की सी सांसें चल रही थी.
Advertisement
Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay