एडवांस्ड सर्च

Advertisement

कोरोना वायरस से खुद जिंदगी हार गया ये पाकिस्तानी डॉक्टर

aajtak.in
25 March 2020
कोरोना वायरस से खुद जिंदगी हार गया ये पाकिस्तानी डॉक्टर
1/5
पूरी दुनिया में कोरोना वायरस का कहर जारी है तो वहीं पाकिस्तान में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़ती जा रही है वहां कई लोगों की मौत हो गई है. डॉक्टर बिना अपनी जान की परवाह किए लोगों का इलाज करने में जुटे हैं. लेकिन इस बीच एक युवा पाकिस्तानी डॉक्टर की कोरोना वायरस से जान चली गई.


कोरोना वायरस से खुद जिंदगी हार गया ये पाकिस्तानी डॉक्टर
2/5
इस डॉक्टर का नाम है उसामा रियाज. उसामा की उम्र 26 साल थी. हाल ही में इनकी कोरोना वायरस से मौत हो गई.  बताया जा रहा है कि मरीजों के इलाज करने के दौरान इनके पास न तो मास्क था और न ही ग्लव्स. ऐसे में अपनी जान की परवाह किए बिना इन्होंने कई लोगों का इलाज किया.
कोरोना वायरस से खुद जिंदगी हार गया ये पाकिस्तानी डॉक्टर
3/5
द ट्रिबियून के मुताबिक उसामा रियाज दुनिया के लिए पाकिस्तान में एक हीरो बनकर उभरे हैं. उसामा रियाज के कोरोना पॉजिटिव निकलने के दो बाद उनकी तबियत ज्यादा खराब हो गई जिसके बाद उन्हें जिला मुख्यालय अस्पताल में भर्ती कराया गया और वहां उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया. हालांकि, रविवार को उनका निधन हो गया.
कोरोना वायरस से खुद जिंदगी हार गया ये पाकिस्तानी डॉक्टर
4/5
जी-बी के सूचना विभाग ने मृत्यु की पुष्टि की, उन्होंने कहा कि डॉक्टर उसामा रियाज ने कोरोनो वायरस के खिलाफ लड़ाई में अपने जीवन का बलिदान दिया है. उन्होंने कहा, 'उन्हें राष्ट्रीय नायक यानी एक हीरो की तरह घोषित किया जाएगा.
कोरोना वायरस से खुद जिंदगी हार गया ये पाकिस्तानी डॉक्टर
5/5
उसामा की मौत के बाद उनके दोस्तों ने मंत्री से मास्क उपलब्ध कराने की मांग की. जानकारी के मुताबिक रियाज 10 लोगों की डॉक्टरों की टीम का हिस्सा थे. जो लोग ईरान से लौटे थे वे उनकी जांच करने में लगे हुए थे. उनके पास जरूरी मास्क और ग्लव्स नहीं थे जिसके कारण एक संक्रमित मरीज के संपर्क में आने से उनकी मौत हो गई. उनके दोस्तों का कहना है कि रियाज बिना अपनी हेल्थ की परवाह किए दिन रात मरीजों की सेवा में लगे रहते थे.
Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay