एडवांस्ड सर्च

Advertisement

कांग्रेस ने राफेल की पूजा को बताया था तमाशा, अब नेहरू, मोदी का पुराना वीडियो वायरल

aajtak.in
09 October 2019
कांग्रेस ने राफेल की पूजा को बताया था तमाशा, अब नेहरू, मोदी का पुराना वीडियो वायरल
1/7
फ्रांस में भारतीय वायुसेना को मिले पहले राफेल फाइटर जेट की शस्त्र पूजा को कांग्रेस ने तमाशा बताया था. अब इस मुद्दो को लेकर देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू और वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का बेहद पुराना वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है. एक वीडियो में जहां नेहरू भारतीय नौसेना में शामिल हो रहे एक जहाज की पूजा करते हुए नजर आ रहे हैं वहीं दूसरे वीडियो में पीएम मोदी गाड़ियों पर नींबू मिर्ची लगाने का मजाक उड़ा रहे हैं. (तस्वीर - सोशल मीडिया)

कांग्रेस ने राफेल की पूजा को बताया था तमाशा, अब नेहरू, मोदी का पुराना वीडियो वायरल
2/7
बता दें कि फ्रांस में राफेल विमान की शस्त्र पूजा को लेकर कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने इसे तमाशा करार देते हुए कहा था कि उनकी पार्टी ने इतना दिखावा कभी नहीं किया था तब भी, जब उस समय सरकार बोफोर्स गन जैसा हथियार लेकर आई थी.
कांग्रेस ने राफेल की पूजा को बताया था तमाशा, अब नेहरू, मोदी का पुराना वीडियो वायरल
3/7
खड़गे के इस बयान के बाद सोशल मीडिया पर उनकी और कांग्रेस पार्टी की लोगों ने जमकर आलोचना शुरू कर दी थी. कुछ लोगों ने तो कांग्रेस को हिंदू विरोधी तक करार दे दिया था. इसके बाद से एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है जो ब्लैक एंड व्हाइट में है. इस वीडियो में पंडित जवाहर लाल नेहरू भारतीय नौसेना में शामिल होने वाले एक जहाज की पूजा करते हुए और नारियल तोड़ते हुए दिख रहे हैं.
कांग्रेस ने राफेल की पूजा को बताया था तमाशा, अब नेहरू, मोदी का पुराना वीडियो वायरल
4/7
बता दें कि फ्रांस में भारतीय वायु सेना को पहले राफेल विमान मिलने के बाद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने विजयदशमी के मौके पर करीब 30 मिनट तक राफेल में उड़ान भरने से पहले उसकी शस्त्र पूजा की. उन्होंने राफेल पर ओम लिखा और रक्षा सूत्र भी विमान पर बांधा था. टायर के नीचे नींबू भी रखे गए थे. कांग्रेस ने इसे ही तमाशा करार दिया था.
कांग्रेस ने राफेल की पूजा को बताया था तमाशा, अब नेहरू, मोदी का पुराना वीडियो वायरल
5/7
हालांकि राजनाथ सिंह के राफेल के पूजा करने और टायर के नीचे नींबू रखने का वीडियो सामने आने के बाद पीएम मोदी का साल 2017 का एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है जिसमें वो ऐसी चीजों को अंधविश्वास बताकर इसका मजाकर उड़ा रहे हैं.


 
कांग्रेस ने राफेल की पूजा को बताया था तमाशा, अब नेहरू, मोदी का पुराना वीडियो वायरल
6/7
दरअसल 25 दिसंबर 2017 को नोएडा में बोटैनिकल गार्डन से कालकाजी के बीच मेट्रो लाइन के उद्धाटन के मौके पर नींबू-मिर्ची लगाने का पीएम मोदी ने मजाक बनाया था. उन्होंने कहा था, 'आपने देखा होगा एक मुख्‍यमंत्री ने कार खरीदी. मैं आधुनिक युग की बात कर रहा हूं और किसी ने बता दिया कि कार के कलर के संबंध में तो उन्‍होंने कार के ऊपर पता नहीं नींबू और मिर्ची न जाने क्‍या–क्‍या ये, ये लोग देश को क्या प्रेरणा देंगे. ऐसी अंध श्रद्धा में जीने वाले लोग सार्वजनिक जीवन का बहुत अहित करते हैं. सारे हिन्दुस्तान में में कहीं न कहीं इस प्रकार की मान्‍यताओं में कई सरकारें, कई मुख्‍यमंत्री फसे पड़े हैं.'
कांग्रेस ने राफेल की पूजा को बताया था तमाशा, अब नेहरू, मोदी का पुराना वीडियो वायरल
7/7
कांग्रेस नेता खड़गे के बयान का विरोध उन्हीं की पार्टी में शुरू हो गया. महाराष्ट्र के कांग्रेस नेता संजय निरुपम ने इस बयान के लिए मल्लिकार्जुन खड़गे को निशाने पर लिया है. मल्लिकार्जुन खड़गे के बयान पर संजय निरुपम ने कहा कि शस्त्र पूजा कोई अंधविश्वास नहीं है. यह हमारी परंपरा का प्रतीक रहा है. दिक्कत यह है कि खड़गे नास्तिक हैं, इसलिए उन्हें यह तमाशा लगता है. ऐसे लोग केवल एक फीसदी हैं. लेकिन वे एक फीसदी लोग की विचार कांग्रेस की नहीं हो सकती.
Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay