एडवांस्ड सर्च

Advertisement

दिल्ली में रहते हैं तो एक बार जरूर घूमें ये 5 गुमनाम जगह!

aajtak.in [Edited By: सुधांशु ]
24 February 2019
दिल्ली में रहते हैं तो एक बार जरूर घूमें ये 5 गुमनाम जगह!
1/6
दिल्ली अपनी प्राचीन और खूबसूरत इमारतों के लिए जानी जाती है. दिल्ली में मुगलों की संस्कृति का एक खूबसूरत संगम देखने को मिलता है. दिल्ली में कई ऐसी जगह हैं, जिनके बारे में कम ही लोग जानते हैं. तो आइए आपको बताते हैं दिल्ली की कौन सी देखने लायक जगह हैं, जहां एक बार जाना तो बनता है.
दिल्ली में रहते हैं तो एक बार जरूर घूमें ये 5 गुमनाम जगह!
2/6
मिर्जा गालिब की हवेली- मशहूर शायर मिर्जा गालिब को भला कौन नहीं जानता है. लेकिन क्या आपको पता है कि दिल्ली में उनकी याद में एक हवेली भी है? जी हां, दिल्ली के चांदनी चौक इलाके में मिर्जा गालिब की हवेली है. यह हवेली 150 साल पुरानी है. अब इसे एक म्यूजियम में बदल दिया गया है. यहां आपको मिर्जा गालिब की शायरी के साथ उनकी पेंटिंग और तस्वीरें भी देखने को मिलेंगी. अगर आपको शायरी और इतिहास में रुचि है तो जरूर जाएं मिर्जा गालिब की हवेली.

दिल्ली में रहते हैं तो एक बार जरूर घूमें ये 5 गुमनाम जगह!
3/6
अग्रसेन की बावली- अग्रसेन की बावली जंतर मंतर के पास स्थित है. इसका निर्माण साल 1958 में राजा सूर्यवंशी ने करवाया था. अगर आप कभी दिल्ली की भागदौड़ वाली जिंदगी से थोड़ा सुकून चाहते हैं, तो ये जगह आपके लिए बेस्ट है. फोटोग्राफी के लिए ये जगह काफी अच्छी है.
दिल्ली में रहते हैं तो एक बार जरूर घूमें ये 5 गुमनाम जगह!
4/6
आधम खान का मकबरा- आधम खान के मकबरे का निर्माण साल 1561 में हुआ था. इस मकबरे को मुगल शासक अकबर के दिल के करीब बताया जाता है. अगर मुगलों की संस्कृति के बारे में जानने की रुचि है तो एक बार आप इस मकबरे में जरूर जाएं.
दिल्ली में रहते हैं तो एक बार जरूर घूमें ये 5 गुमनाम जगह!
5/6
सतपुला ब्रिज- मालविया नगर में स्थित सतपुला ब्रिज अब किसी गुमनामी में खो चुका है. सतपुला ब्रिज 7 ब्रिजों को जोड़कर बनाया गया है. सुल्तान मोहम्मद शाह तुगलक ने इस ब्रिज को अपने बचाव के लिए बनवाया था.
दिल्ली में रहते हैं तो एक बार जरूर घूमें ये 5 गुमनाम जगह!
6/6
संजय वन- यह सुनकर आपको हैरानी जरूर होगी कि दिल्ली में एक जंगल भी है. संजय वन यूं तो एक पार्क है. लेकिन ये इतने बड़े क्षेत्र में फैला हुआ है कि यह जंगल जैसा लगता है. यहां पर चारों तरफ हरियाली और विभिन्न पक्षियों की प्रजातियां भी हैं. वैसे कुछ लोगों ने संजय वन को भूतिया करार दिया है.
Advertisement
Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay