एडवांस्ड सर्च

03:21

पतंजल‍ि द्वारा कोरोनिल के दावे को लेकर लगातार विवाद जारी है. रामदेव ने 23 जून को कोरोनिल का ऐलान किया था. दावा किया गया था इससे कोरोना मरीज एक हफ्ते के अंदर रिकवर हो सकते हैं. इस बीच बाबा रामदेव ने बुधवार को मामले पर अपनी बात रखी. ज‍िसमें बाबा रामदेव ने कोरोनिल की आलोचना करने वालों पर जमकर गुस्सा निकाला. इस दौरान आजतक ने कोरोनिल से होने वाली कमाई पर भी सवाल पूछा. क्या था बाबा रामदेव का जवाब, जानने के ल‍िए देखें, ये वीड‍ियो.

Speak Now



x
Languages:    हिन्दी    English
About 30374 results (4 seconds)
    उत्तराखंड हाई कोर्ट ने योग गुरु रामदेव के स्वामित्व वाली कंपनी पतंजलि, केंद्र सरकार और राज्य सरकार को नोटिस दिया है. कोरोनिल दवा पर हाई कोर्ट ने एक सप्ताह के भीतर जवाब मांगा है.
    राजस्थान के स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर रघु शर्मा ने कहा कि इम्युनिटी बूस्टर की जगह जिस तरह रामदेव ने इस दवाई को कोरोना का इलाज करने वाली दवाई के तौर पर दावा किया, देश की जनता के साथ क्रूर मजाक था. इसीलिए रामदेव को माफी मांगनी चाहिए.
    04:14
    कोरोना पर अपनी दवा कोरोनिल पर विवाद खड़ा होने के बाद आज बाबा रामदेव मीडिया के सामने आए और जानकारी दी आयुष मंत्रालय ने उनकी दवा को परखा है- हालांकि आयुष मंत्रालय ने बाबा की दवा को सिर्फ इम्यूनिटी बूस्टर ही माना- इधर अच्छी खबर ये है कि भारत बायोटेक को कोरोना वैक्सीन के मानव परीक्षण की इजाजत मिल गई है. देखें वीडियो.
    02:46
    कोरोना की दवा बनाने का दावा करने वाली कंपनी पतंजलि आयुर्वेद ने अब यू टर्न मार लिया है. बाबा रामदेव ने जिस कोरोनिल से कोरोना के इलाज की बात कही थी, अब पतंजलि आयुर्वेद के सीईओ आचार्य बालकृष्ण के मुताबिक वो एक इम्यूनिटी बूस्टर है. हालांकि बालकृष्ण ने क्लीनिकल कंट्रोल ट्रायल और कोरोना के मरीज ठीक होने की बात कही लेकिन इसे अब वो इम्युनिटी बूस्टर बता रहे हैं. जिसका लाइसेंस लिया गया है. जबकि रामदेव ने साफ कहा था कि दवा से 100 प्रतिशत इलाज हो रहा है. देखें वीडियो.
    03:19
    पीएम मोदी ने ये बैठक देश के नाम संबोधन से पहले की. देश में कोरोना वायरस की वैक्सीन बनाने का काम जोरों पर चल रहा है और कई एजेंसियां इनमें लगी हैं. भारत सरकार की मदद से वैक्सीन बनाने और उसपर रिसर्च का काम भी चल रहा है. बीते दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पीएम केअर्स से कुछ फंड इसी रिसर्च के लिए भी दिया था. वहीं पीएम मोदी ने अपने आज के संदेश में भी कोरोना को लेकर चिंता जताई है. कोरोना की दवाई का दावा करने वाली पतंजली की ओर से भी सफाई आई है. आचार्य बालकृष्ण ने पूरे मामले को साजिश बताया. वहीं साफ किया की पतंजलि की ओर से दवा से कोरोना के ठीक होने का कोई दावा नहीं किया. देखें वी़डियो.
    भारत में 29 जून की शाम तक कोरोना के करीब 5 लाख 48 हजार केस दर्ज हुए हैं और 16 हजार से ज्यादा मौतें हो चुकी हैं. इसी बीच फेसबुक पर दावा किया जा रहा है कि कशायम नाम का काढ़ा पीने से कोविड-19 बीमारी का इलाज किया जा सकता है.
    01:34
    बाबा रामदेव की एंटी-कोविड दवा ‘कोरोनिल’ पर सरकार द्वारा प्रतिबंध लगाए जाने के बाद, सोशल मीडिया पर कुछ लोग दावा कर रहें हैं कि आयुष मंत्रालय ने ऐसा इसलिए किया क्योंकि स्वीकृत वैज्ञानिक पैनल में छह मुस्लिम वैज्ञानिक हैं. क्या ये सच है? जानने के लिए देखें वीडियो.
    सीएम केजरीवाल ने कहा कि अभी तक लोगों की शिकायत आ रही थी कि जिन मरीजों का अस्पताल में इलाज चल रहा है उनके परिजन उसका हाल-चाल नहीं ले पा रहे हैं, बात नहीं कर पा रहे हैं. आज से वीडियो कॉल की सुविधा शुरू कर दी गई है.
    दिल्ली में अब तक 2429 लोगों की मौत हो चुकी है. जबकि कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 73,780 हो गई है. हालांकि दिल्ली में अब तक 44,765 लोग ठीक होकर घर वापस भी लौटे हैं.

    एडवांस्ड सर्च

    रिलेटेड स्टोरी

    No internet connection

    Okay