एडवांस्ड सर्च

21:32

आम्रपाली मामले की सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने नोएडा और ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी को फटकार लगाई. कोर्ट ने कहा कि हम कागजी शेर नहीं हैं, हम ठोस कार्रवाई करेंगे. साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने तुरंत रजिस्ट्री शुरू करने का आदेश दिया है. जानिए सुप्रीम कोर्ट ने अपने आदेश में क्या कहा.

Speak Now



x
Languages:    हिन्दी    English
About 30374 results (4 seconds)
    22:30
    आम्रपाली के मसले पर सुप्रीम कोर्ट ने घर खरीदारों के हक में बीते हफ्ते फैसला सुना दिया. अब इंसाफ की आस लगाए बैठे घर खरीदारों को एनबीसीसी के जल्द काम शुरु करने की उम्मीद है. इसमें लगातार सवाल उठ रहे हैं कि कहीं फंड की कमी काम शुरु होने से पहले ही ना रोक दे. आखिर कितना मुश्किल है काम शुरु होना, देखते हैं ये रिपोर्ट.
    23:06
    पजेशन में देरी पर अब घर खरीदारों को होम लोन का ब्याज भी वापस दिलाया जाएगा. नेशनल कंज्यूमर कोर्ट ने घर खरीदारों की सहूलियत के लिए ये फैसला लिया है. NCDRC ने ब्याज दर के विवाद को भी साथ ही सुलझा दिया है. इससे ये भी साफ हो गया है कि किस ब्याज दर पर ग्राहकों को रिफंड मिलेगा.
    22:54
    इस बार के बजट में हाउसिंग सेक्टर के लिए सरकार कई बड़े एलान कर सकती हैं. इन सभी के ज़रिए सरकार का मकसद घर खरीदारों को राहत पहुंचाना है. इसके लिए फंसे प्रोजेक्ट्स के घर खरीदारों को टैक्स में अलग से राहत पहुंचाने की योजना भी शुमार हो सकती है. सरकार अगर होम लोन के ब्याज भुगतान पर टैक्स छूट के नियम को आसान बनाती है तो इससे रियल एस्टेट सेक्टर को बूस्ट मिल सकता है. आपकी प्रापर्टी में जानें रियल एस्टेट सेक्टर से जुड़ी हर बात.
    24:29
    घर खरीदारों के लिए प्रोजेक्ट्स में घर बुक कराकर फंसने का दौर अब बीते वक्त की बात होने वाली है. जल्द ही UP RERA एक अनूठी पहल करने जा रहा है. इसके तहत सभी प्रोजेक्ट्स की स्टार रेटिंग की जाएगी. साथ ही प्रोजेक्ट्स की ANNUAL GRADING भी होगी, जिससे ग्राहकों को केवल भरोसेमंद प्रोजेक्ट्स में ही घर खरीदने का मौका मिलेगा.
    23:42
    प्रॉपर्टी बाज़ार के लिए लगातार खुशखबरी आने का सिलसिला जारी है. इस बार के बजट में सरकार इस सेक्टर के लिए बड़े एलान कर सकती है. इसी बीच आरबीआई की एक रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि तमाम मंदी और मुश्किलों के बावजूद लॉन्ग टर्म निवेशकों को प्रॉपर्टी से बड़ा मुनाफा मिल रहा है.
    19:03
    रियल एस्टेट सेक्टर ने लोकसभा चुनावों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में एनडीए के क्लीन स्वीप का स्वागत किया है. इस सेक्टर से जुड़े लोगों ने उम्मीद जताई है कि नई सरकार 2022 तक सभी को अपना घर देने के वादे को पूरा करेगी, साथ ही अर्थव्यवस्था में तेजी और नौकरियों के निर्माण पर ध्यान देगी. देखें ये रिपोर्ट.
    22:09
    घर खरीदारों ने इस बार चुनावों में पजेशन के मुद्दे को अपनी मांग बनाया है. दिल्ली-एनसीआर और मुंबई में इस संकट से परेशान लोगों की तादाद लाखों में है. एक प्रॉपर्टी कंसल्टेंसी फर्म एनारॉक की रिपोर्ट में दावा किया गया है कि देशभर में साढ़े 5 लाख से ज्यादा घरों के पजेशन में देरी है. ये सभी प्रोजेक्ट 2013 या उसके पहले लॉन्च हुए थे. इन घरों की कुल कीमत एनारॉक ने 4 लाख 51 हज़ार 750 करोड़ रुपए आंकी है. देखें ये रिपोर्ट.
    19:46
    रियल एस्टेट सेक्टर में हमेशा से पुरुषों का दबदबा रहा है. शैक्षिक स्तर, कामकाज के तरीकों ने महिलाओं को प्रॉपर्टी मार्केट से दूर ही रखा है. अब रियल एस्टेट में महिलाओं की दखलंदाजी घर की खरीदारी से लेकर बिक्री तक लगातार बढ़ रही है. रियल एस्टेट सेक्टर को काम करने और घर खरीदने दोनों ही लिहाज से अबतक कुछ बरस पहले केवल पुरुषों का कार्यक्षेत्र ही समझा जाता था लेकिन अब वक्त बदल रहा है. रियल एस्टेट की तरक्की और रेरा जैसे कानून के बाद से ये क्षेत्र तो संगठित बन ही रहा है. साथ ही यहां पर काम करने वाली महिलाओं की तादाद भी तेजी से बढ़ रही है.
    15:34
    रियल एस्टेट में पजेशन की परेशानी तो अक्सर सुर्खियों में बनी रहती है लेकिन पजेशन मिलने की खबरें कम ही हेडलाइंस बन पाती हैं. लेकिन हम मार्च की शुरुआत में ही आपको बताएंगे मार्च के आखिर तक मिलने वाले पजेशन का पुख्ता आंकड़ा. प्रॉपटाइगर की रिपोर्ट में ये दावा किया गया है कि एनसीआर में जनवरी-मार्च में 54 हज़ार घरों की चाबी घर खरीदारों को मिलने वाली है.

    एडवांस्ड सर्च

    रिलेटेड स्टोरी

    No internet connection

    Okay