एडवांस्ड सर्च

कोरोना काल में देश के मजदूर वर्ग को सबसे ज्यादा तकलीफ झेलनी पड़ी. अब धीरे-धीरे हालात सामान्य हो रहे हैं. लेकिन भारी संख्या में हुए पलायन की वजह से अभी भी कई सारे उद्योगों में कामगारों की कमी महसूस हो रही है.

Speak Now



x
Languages:    हिन्दी    English
About 30374 results (4 seconds)
    असदुद्दीन ओवैसी ने लिखा, आज चीन पर बोलना था, बोल गए चना पर. दरअसल, इसी की जरूरत भी थी क्योंकि आपके अनियोजित लॉकडाउन ने कई लोगों को भूखा छोड़ दिया है. त्योहारों को लेकर भी ओवैसी ने प्रधानमंत्री मोदी के संबोधन पर निशाना साधा.
    प्रधानमंत्री मोदी आज के अपने 17 मिनट 39 सेकेंड के संबोधन के दौरान कोरोना वायरस को लेकर ही बोलते रहे. महामारी के इस दौर में चीन के साथ विवाद का मुद्दा भी गरमाया हुआ है. उन्होंने 17 मिनट से थोड़ा लंबे भाषण में 17 बार भारत का नाम लिया, लेकिन चीन का नाम एक भी बार नहीं लिया.
    पीएम मोदी ने कहा कि लॉकडाउन के दौरान बहुत गंभीरता से नियमों का पालन किया गया था. अब सरकारों को, स्थानीय निकाय की संस्थाओं को, देश के नागरिकों को, फिर से उसी तरह की सतर्कता दिखाने की जरूरत है.
    PM Narendra Modi Speech Highlights: कोरोना संकट पर बोलते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि जब से देश में अनलॉक-वन हुआ है, व्यक्तिगत और सामाजिक व्यवहार में लापरवाही भी बढती ही चली जा रही.
    प्रधानमंत्री ने कहा, प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत गरीबों के लिए पौने दो लाख करोड़ रुपये का पैकेज दिया गया. बीते 3 महीनों में 20 करोड़ गरीब परिवारों के जनधन खातों में सीधे 31 हजार करोड़ रुपए जमा करवाए गए. 9 करोड़ से अधिक किसानों के बैंक खातों में 18 हजार करोड़ रुपए जमा हुए हैं.
    शहाब जाफरी के शेर के जरिए मंगलवार को राहुल गांधी ने पीएम नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा. इसी शेर के जरिए साल 2011 में लोकसभा में सुषमा स्वराज ने कांग्रेस सरकार को घेरा था.
    प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आज गरीब को, जरूरतमंद को, सरकार अगर मुफ्त अनाज दे पा रही है तो इसका श्रेय दो वर्गों को जाता है. पहला, हमारे देश के मेहनती किसान, हमारे अन्नदाता और दूसरा, हमारे देश के ईमानदार टैक्सपेयर. उन्होंने यह भी कहा कि एक देश एक राशन कार्ड स्कीम जल्द शुरू की जाएगी.
    8 विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव के लिए बीजेपी ने 8 मंत्रियों और संगठन के 8 नेताओं को जोड़ी बनाकर मैदान में उतारा है और इन्हें इन आठ सीटों पर कमल खिलाने की जिम्मेदारी दी गई है.
    चीन से तनाव के बीच, भारत के प्रमुख उद्योग मंडल फिक्की की अध्यक्ष संगीता रेड्डी ने अपने सदस्यों के लिए एक कार्य योजना तैयार की है.

    एडवांस्ड सर्च

    रिलेटेड स्टोरी

    No internet connection

    Okay