एडवांस्ड सर्च

46 साल पहले आज ही के दिन (24 जून) इंग्लैंड दौरे के लॉर्ड्स में टेस्ट में फॉलो ऑन करते हुए भारतीय टीम 42 रनों पर सिमट गई थी. टेस्ट मैचों की एक पारी में सबसे कम स्कोर का उसका यह शर्मनाक रिकॉर्ड आज भी बरकरार है.

Speak Now



x
Languages:    हिन्दी    English
About 30374 results (4 seconds)
    शेन वॉर्न ने ऑस्ट्रेलिया की तरफ से टेस्ट क्रिकेट में 708 विकेट लिये थे, जबकि भारत के राजिंदर गोयल ने फर्स्ट क्लास क्रिकेट में 750 विकेट झटके थे.
    प्रथम श्रेणी क्रिकेट में अपने जमाने के दिग्गज स्पिनर राजिंदर गोयल का उम्र संबंधी बीमारियों के कारण रविवार को निधन हो गया.
    आईसीसी से नाराज भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने निवर्तमान चेयरमैन शशांक मनोहर पर जानबूझकर टी20 वर्ल्ड कप के मुद्दे पर अपनी टांग अड़ाने का आरोप लगाया है.
    भारतीय क्रिकेट के इतिहास में आज का दिन (18 जून) बेहद खास है. इसी दिन 37 साल पहले 1983 वर्ल्ड कप के दौरान कपिल देव ने नाबाद 175 रनों की ताबड़तोड़ पारी खेली थी.
    लॉकडाउन के दौरान कई लोग काफी कुछ नया सीख रहे हैं. दिग्गज क्रिकेटर सुनील गावस्कर ने भी बताया कि आखिर लॉकडाउन का इस्तेमाल उन्होंने किस तरह किया.
    इस साल आईपीएल और टी-20 वर्ल्डकप के आयोजन को लेकर कई तरह के कयास लगाए जा रहे हैं. इस बीच सुनील गावस्कर का कहना है कि अगर T-20 वर्ल्डकप होता है तो IPL टल भी सकता है.
    03:14
    e-सलाम क्रिकेट 2020 के मंच पर टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सुनिल गावस्कर ने कहा, लॉकडाउन में आलसी बन गया था और लंबी दाढ़ी बना ली थी. अगर लॉकडाउन और बढ़ा तो दाढ़ी बढ़ा लूंगा. क्रिकेट के लिए वक्त मुश्किल है, कोरोना वायरस का इफेक्ट किसी को पता नहीं है. डॉक्टरों ने सोशल डिस्टेंसिंग की सलाह दी है, फिर भी ये वायरस कम नहीं हो रहा है. ये वायरस टेस्टिंग के साथ बढ़ता जा रहा है, मुझे लगता है कि अक्टूबर तक क्रिकेट खेलना मुश्किल होगा. इंग्लैंड वाली सीरीज देखकर पता लगेगा कि क्रिकेट कैसे होगा.
    मौजूदा दौर के क्रिकेट को लेकर सुनील गावस्कर ने कहा कि अब खिलाड़ियों के लिए मुश्किल हो सकती है. क्योंकि अब खिलाड़ियों के बीच भरोसा होना काफी जरूरी है, वरना टीम गेम मुश्किल हो सकता है.
    28:15
    देश के दिग्गज क्रिकेटर आज तक के मेगा क्रिकेट कॉन्क्लेव कार्यक्रम E- Salaam Cricket 2020 से जुड़ रहे हैं, जहां उनके साथ होगी क्रिकेट के वर्तमान और उसके भविष्य के बारे में बात. क्रिकेट कॉन्क्लेव के इस महामंच पर क्रिकेट की नई पारी- कितने तैयार हम? सत्र में आमंत्र‍ित रहे भारत के पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर. इस चर्चा में गावस्कर ने कहा कि स्पोर्ट्समैन के लिए मैदान से दूर रहना बहुत मुश्किल होता है. वो परेशान हो जाता है. इस दौर में वो खुद को कैसे संभालता है यह बड़ी बात है. साथ ही उन्होंने बताया क‍ि कोरोना संकट के बीच कैसे आएंगे क्रिकेट के 'सनी डेज'. देख‍िए ये पूरा सत्र.

    एडवांस्ड सर्च

    रिलेटेड स्टोरी

    No internet connection

    Okay