एडवांस्ड सर्च

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि सबरीमाला मंदिर में भगवान अयप्पा के आभूषण किसी परिवार के नहीं, बल्कि स्वयं भगवान अयप्पा स्वामी के हैं. लिहाजा इन आभूषणों की सुरक्षा और इसके संरक्षण के लिए एक जिम्मेदार व्यक्ति की नियुक्ति होनी चाहिए.

Speak Now



x
Languages:    हिन्दी    English
About 30374 results (4 seconds)
    केरल के सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के पूजा करने से जुड़े विवाद पर आज सुप्रीम कोर्ट फैसला सुना सकता है. 9 जजों की बेंच ने सुनवाई के बाद ऑर्डर रिजर्व रखा था.
    इस ट्रस्ट में कुल 15 सदस्य होंगे. इनमें से 9 स्थायी और 6 नामित सदस्य होंगे. यह ट्रस्ट यानी न्यास अयोध्या में अब विवाद मुक्त 66 एकड़ भूमि पर श्री रामजन्मभूमि मंदिर का निर्माण कराएगा.
    देश, दुनिया, खेल, बिजनेस और बॉलीवुड में क्‍या कुछ हुआ? जानने के लिए यहां पढ़ें, समय के साथ साथ खबरों का लाइव अपडेशन.
    आस्था और परंपरा बनाम मौलिक अधिकारों को लेकर सुप्रीम कोर्ट के 9 जजों की बेंच कल सुनवाई करेगी.
    ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड (AIMPLB) ने कहा कि मुस्लिम महिला नमाज के लिए मस्जिद में प्रवेश करने के लिए स्वतंत्र है. एआईएमपीएलबी ने कहा कि किसी एक धर्म की धार्मिक प्रथाओं को पूछताछ करने की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए.
    सबरीमला मंदिर में सभी उम्र की महिलाओं को प्रवेश की इजाजत देने संबंधी याचिका पर सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट का कहना है कि मामले की सुनवाई लंबी नहीं चलेगी. कोर्ट कई धर्मों की महिलाओं के साथ भेदभाव होने के मामले पर सुनवाई कर रहा है.
    सबरीमाला स्थित भगवान अयप्पा के मंदिर में महिलाओं के प्रवेश के मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के दौरान चीफ जस्टिस शरद अरविंद बोबड़े ने कहा कि इस मामले की सुनवाई के लिए सभी पक्षों के वकील आपस में बात करें. इसके लिए दोनों पक्षों के वकीलों को 3 हफ्ते का समय दिया. 9 जजों की बेंच आस्था बनाम अधिकार से जुड़े मुद्दों पर सुनवाई कर रही है जिसमें कई धर्मों से जुड़ी आस्थाओं पर भी सुनवाई की जाएगी.
    तत्कालीन चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली 5 जजों की बेंच ने सबरीमाला पर फैसले देते हुए कहा था कि मुद्दा सिर्फ एक मंदिर नहीं बल्कि इसका असर मस्जिदों में महिलाओं के प्रवेश, अग्यारी में पारसी महिलाओं के प्रवेश पर भी पड़ेगा.
    सबरीमाला मंदिर में सभी उम्र की महिलाओं के प्रवेश के मुद्दे पर 13 जनवरी से सुप्रीम कोर्ट में फिर से सुनवाई शुरू होगी.

    एडवांस्ड सर्च

    रिलेटेड स्टोरी

    No internet connection

    Okay