एडवांस्ड सर्च

अखिलेश यादव कहते हैं, "मैं जब अपने घर की लॉन में टहलता हूं तो मुख्यमंत्री योगी के सुरक्षागार्ड दिखाई देते हैं. मुझे देखकर सुरक्षागार्ड नमस्कार करते हैं और कहते हैं कि भैया अगली सरकार सपा की बन रही है."

Speak Now



x
Languages:    हिन्दी    English
About 30374 results (4 seconds)
    देश, दुनिया, खेल, बिजनेस और बॉलीवुड में क्‍या कुछ हुआ? जानने के लिए यहां पढ़ें, समय के साथ साथ खबरों का लाइव अपडेशन.
    प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के महासचिव आदित्य यादव ने एक बयान जारी कर कहा है कि प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष के निर्देशानुसार पार्टी के समस्त प्रवक्ता और पैनलिस्ट का मनोनयन तत्काल प्रभाव से समाप्त किया जाता है.
    उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के संस्थापक मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू और नेता अपर्णा यादव को योगी सरकार ने वाई श्रेणी की सुरक्षा दी है.
    पूर्वांचल के समाजवादी पार्टी के दिग्गज नेता पारसनाथ यादव का शुक्रवार को निधन हो गया. वो लंबे समय से बीमार चल रहे थे. उन्होंने शुक्रवार को जौनपुर शहर स्थित आवास पर अंतिम सांस ली. निधन से जिले में शोक की लहर दौड़ गई है और सपा सहित अन्य दलों के लोग उनके आवास पर शोक संवेदना के लिए जुटे.
    लॉकडाउन के बाद तबीयत खराब होने के चलते मुलायम सिंह को मेदांता अस्पताल में भर्ती करना पड़ा. इस दौरान अखिलेश यादव डिंपल यादव के साथ वहां मौजूद थे, तो शिवपाल भी लगातार अस्पताल में मौजूद रहे.
    शिवपाल यादव की सपा में वापसी का रास्ता भी बनता दिख रहा है. सपा ने एक ओर जहां शिवपाल यादव की विधानसभा सदस्यता रद्द करने की याचिका वापस ले ली है, तो वहीं शिवपाल ने अखिलेश यादव को चिट्ठी लिखकर आभार जताया है. साथ ही शिवपाल ने अखिलेश यादव के नेतृत्व की भी सराहना की है.
    बसपा प्रमुख मायावती के साथ किए गए गठबंधन के अनुभव पर सपा अध्यक्ष ने कहा कि गठबंधन से बहुत कुछ सीखने को मिला है, लेकिन अब हम किसी के साथ मिलकर चुनाव नहीं लड़ेंगे. आजतक के ई-एजेंडा कार्यक्रम में शामिल हुए सपा प्रमुख ने ये बातें कहीं.
    अखिलेश ने शिवपाल की विधायकी को बचाने के बाद अब 2022 के विधानसभा चुनाव में भी वॉकओवर देने के संकेत दिए हैं. सपा प्रमुख ने आजतक के ई-एजेंडा कार्यक्रम में कहा है कि जसवंतनगर विधानसभा सीट पर समाजवादी पार्टी अपना कैंडिडेट नहीं उतारेगी.
    सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी पर भी वार किया और कहा कि उत्तर प्रदेश में करीब 70 हजार बसें हैं, अगर सरकार इसे लगा देती तो हमें किसी के बस की कोई जरूरत नहीं है. उन्होंने कहा कि पंजाब के मजदूरों और राजस्थान के छात्रों के लिए क्यों नहीं चलाई गई बसें.

    एडवांस्ड सर्च

    रिलेटेड स्टोरी

    No internet connection

    Okay