एडवांस्ड सर्च

01:35

कल सुरक्षाबलों ने पुलवामा में एक भयानक आतंकी साजिश को नाकाम किया था, सुरक्षाबलों ने बारूद से भरी कार को नष्ट किया था, अब जांच में मालूम चला है कि जिस कार में विस्फोटक था वो कार किसकी थी. वो आतंकी कौन है, जो पुलवामा में खूनी खेल खेलना चाहता था. पुलवामा में एक बार फिर से धमाके की साजिश के परखच्चे तो सुरक्षाबल पहले ही उड़ा चुके हैं. मगर अब जांच की कड़ी एक कदम और आगे बढ़ी है. बताया जा रहा है कि जिस सफेद रंग की सैंट्रो कार में बारूद भरा गया था, वो कार हिदायतउल्लाह की है. हिदायतउल्लाह हिजबुल का आतंकी है. देखें ये रिपोर्ट.

Speak Now



x
Languages:    हिन्दी    English
About 30374 results (4 seconds)
    00:52
    कश्मीर में कल सुरक्षाबलों ने एक बड़े आतंकी हमले की साजिश को नाकाम कर दिया. सुरक्षाबलों ने विस्फोटकों से भरी कार को कब्जे में लिया और फिर आसपास के घरों को खाली करा, बम निरोधक दस्ते की मदद से विस्फोटकों से भरी कार को उड़ा दिया. अब कांग्रेस ने इस आतंकी हमले पर सवाल खड़े कर दिए हैं. कांग्रेस नेता पीएल पुनिया ने सवाल खड़े करते हुए कहा कि आखिर हाई सिक्योरिटी जोन में विस्फोटक लदी कार कैसे पहुंची. इस वीडियो में देखें और क्या बोले पीएल पुनिया.
    पुलवामा में एक बार फिर आतंकी बड़े हमले को अंजाम देने वाले थे लेकिन सुरक्षाबलों के हाई अलर्ट के चलते यह हमला नाकाम हो गया. इस हमले में अजहर मसूद के भतीजे मोहम्मद इस्माइल का नाम सामने आ रहा है.
    सूत्रों के मुताबिक, कार के मालिक की पहचान हो गई है. ये कार हिदायतुल्लाह नाम के शख्स की है, जो शोपियां का रहने वाला है. हिदायतुल्लाह 2019 से हिज्बुल मुजाहिद्दीन का सक्रिय आतंकी है.
    02:04
    पुलवामा में सुरक्षाबलों को निशाना बनाने की आतंकियों की बड़ी साजिश नाकाम कर दी गई है. बम से लैस कार को सुरक्षाबलों ने धमाका करके उड़ा दिया. हालांकि कार ड्राइवर आतंकी मौके से फरार हो गया जिसकी तलाश की जा रही है. कश्मीर पुलिस आईजी विजय कुमार ने बताया कि इस साजिश के पीछे मुख्य रूप से जैश-ए-मोहम्मद का हाथ था जिसमें हिजबुल मुजाहिदीन भी उसे मदद कर रहा था. सुरक्षाबलों ने कैसे आतंकियों के मंसूबे पर पानी फेरा, इसके बारे में उन्होंने विस्तार से बताया. देखिए ये वीडियो.
    03:27
    पुलवामा में सुरक्षाबलों को निशाना बनाने की आतंकियों की बड़ी साजिश नाकाम कर दी गई है. बम से लैस कार को सुरक्षाबलों ने धमाका करके उड़ा दिया. हालांकि कार ड्राइवर आतंकी मौके से फरार हो गया जिसकी तलाश की जा रही है. कश्मीर पुलिस आईजी विजय कुमार ने बताया कि इस साजिश के पीछे मुख्य रूप से जैश-ए-मोहम्मद का हाथ था जिसमें हिजबुल मुजाहिदीन भी उसे मदद कर रहा था. सुरक्षाबलों ने कैसे आतंकियों के मंसूबे पर पानी फेरा, इसके बारे में उन्होंने विस्तार से बताया. आईजी विजय कुमार ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि हमें पिछले एक हफ्ते से इनपुट मिल रहे थे कि जैश-ए-मोहम्मद और हिजबुल मिलकर आत्मघाती हमले की फिराक में हैं. इसमें ये कार बम का इस्तेमाल कर रहे हैं. इसके बाद ही सारी एजेंसियां चौकन्ना थीं. देखिए ये वीडियो.
    29:37
    पुलवामा में सुरक्षाबलों को निशाना बनाने की आतंकियों की बड़ी साजिश नाकाम कर दी गई है. बम से लैस कार को सुरक्षाबलों ने धमाका करके उड़ा दिया. आतंकियों ने 2019 के पुलवामा हमले की तर्ज पर बड़े हमले की साजिश रची थी. खुफिया इनपुट के बाद सुरक्षाबलों ने इस चाल को नाकाम कर दिया. जम्मू कश्मीर के आईजी विजय कुमार के मुताबिक कार में 45 किलो विस्फोटक था. धमाके के वक्त कुछ घरों के शीशे भी टूटे. जम्मू कश्मीर के आईजी विजय कुमार ने बताया कि चेकपोस्ट पर सुरक्षाबलों ने कार रोकने की कोशिश की थी लेकिन आतंकी भाग निकले थे.
    जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में गुरुवार को एक आतंकी हमला टल गया. यहां एक गाड़ी में IED प्लांट किया गया था, जिसे सुरक्षाबलों ने डिफ्यूज किया.
    05:00
    कश्मीर के पुलवामा में एक कार में लगे आईईडी को डिफ्यूज करके सुरक्षा बलों ने धमाके की बड़ी साजिश को टाल दिया है. सेना-पुलिस और सीआरपीएफ ने डिफ्यूज करके धमाके को तो रोक दिया लेकिन कई सवाल खड़े हो रहे हैं. क्या फिर से पुललामा में सुरक्षा बलों के खिलाफ साजिश रची जा रही थी. विसफोटकों से लदी कार पर टू व्हीलर की नंबर प्लेट लगी थी. तो क्या आतंकी संगठन पुलवामा पार्ट- 2 की योजना बना रहे थे. धमाके की साजिश में सेंध लगा दी गई है लेकिन तह तक पहुंचना अभी बाकी है. बताया जा रहा है कि गाड़ी को हिज्बुल मुजाहिद्दीन का एक आतंकी चला रहा था, जो कि शुरुआती गोलीबारी के बाद ही भाग गया. देखिए वीडियो.
    तस्वीरों का ऐतिहासिक विश्लेषण बताता है कि सीमा के इस तरफ भारतीय हिस्से में ITBP का कई साल से स्थायी कैम्प है. ये तस्वीरें LAC से लगभग 2.5 किलोमीटर की दूरी पर चीनी सैनिकों की उपस्थिति का संकेत देती हैं. ये उपस्थिति मई 2020 के पहले हफ्ते में ली गई तस्वीरों में नहीं दिख रही थी.

    एडवांस्ड सर्च

    रिलेटेड स्टोरी

    No internet connection

    Okay