एडवांस्ड सर्च

कुछ समय बाद नहीं होगी जमीन की रजिस्ट्री. खसरा-खतौनी के चक्कर में आपको रजिस्ट्री ऑफिस या पटवारी के चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे. आपको सिर्फ एक नंबर दे दिया जाएगा. ये सबकुछ संभव होगा जियोटैगिंग या जियोकोडिंग से.

Speak Now



x
Languages:    हिन्दी    English
About 30374 results (4 seconds)
    अयोध्या में 6 दिसंबर 1992 को बाबरी मस्जिद के विवादित ढांचे को लाखों की संख्या में पहुंचे कारसेवकों ने गिरा दिया था, इस घटना को हुए आज 27 साल हो चुके हैं. 6 दिसंबर 1992 का दिन देश ही नहीं विश्व के इतिहास का सबसे काला दिन बन गया है.
    1992 में विश्व हिंदू परिषद (विहिप) ने घोषणा की कि अयोध्या में मंदिर का काम शुरू करने के लिए 6 दिसंबर का दिन चुना गया है. इसके बाद नवंबर के महीने में हजारों कारसेवक अयोध्या में जमा हो गए. 
    दिल्ली हाईकोर्ट की डिविजन बेंच ने सरकार से उन बकाया राशियों का उल्लेख करने को भी कहा है, जिन्हें सरकारी बंगलों में अनधिकृत तरीके से रहने वाले अधिकारियों से वसूल करना है.
    चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली बेंच ने शनिवार को अयोध्या केस में फैसला सुनाते हुए साफ कहा कि बाबरी मस्जिद को नुकसान पहुंचाना और गिराना कानून का उल्लंघन था.
    राष्ट्रीय जनता दल के नेता तेजस्वी यादव ने कहा कि फैसला सर्वमान्य है और अब राजनीतिक दलों को अच्छे स्कूल कॉलेज और हॉस्पिटल बनाने पर ध्यान देना चाहिए.
    राममंदिर आंदोलन से बीजेपी को संजीवनी मिली. अयोध्या विवाद मामले का फैसला सुप्रीम कोर्ट से आ रहा है तो नरेंद्र मोदी देश के प्रधानमंत्री हैं. इसके नाते सवाल उठता है कि जिस साल बाबरी विध्वंस हुआ था तो उस 1992 में नरेंद्र मोदी के बारे में मीडिया में क्या लिखा जा रहा था.
    अयोध्या आंदोलन का सूत्रपात कर भारतवर्ष की राजनीति को नई धारा देने वाले लालकृष्ण आडवाणी आज 92 साल के हो गए. बीजेपी के पितामह लालकृष्ण आडवाणी 1992 के अयोध्या आंदोलन के नायक रहे. अयोध्या में राम मंदिर निर्माण की मांग को लेकर 1990 में गुजरात के सोमनाथ से शुरू की गई उनकी रथ यात्रा ने भारत के सामाजिक ताने-बाने पर अंदर तक असर डाला.
    अयोध्या का विवाद पांच सदियों से चला आ रहा है. आजादी के बाद से अब तक इस विवाद ने देश की राजनीति को प्रभावित किया है. आइए...जानते हैं कि कैसे पिछली पांच सदियों में अयोध्या का कालचक्र घूमा...
    देश, दुनिया, खेल, बिजनेस और बॉलीवुड में क्‍या कुछ हुआ? जानने के लिए यहां पढ़ें, समय के साथ साथ खबरों का लाइव अपडेशन.

    एडवांस्ड सर्च

    रिलेटेड स्टोरी

    No internet connection

    Okay