एडवांस्ड सर्च

हैदराबाद में महिला वेटनरी डॉक्टर की गैंगरेप और हत्या के मामले में पुलिस एनकाउंटर में मारे गए आरोपी की पत्नी ने बयान दिया है. आरोपी की 7 महीने की गर्भवती पत्नी ने कहा, 'मेरे पति के हत्यारों को भी मार देना चाहिए.'

Speak Now



x
Languages:    हिन्दी    English
About 30374 results (4 seconds)
    देश, दुनिया, खेल, बिजनेस और बॉलीवुड में क्‍या कुछ हुआ? जानने के लिए यहां पढ़ें, समय के साथ साथ खबरों का लाइव अपडेशन.
    दिशा गैंगरेप के आरोपी चिंताकुंटा चेन्नाकेशवुलु की पत्नी रेनुका और आरोपी जोलू शिवा के पिता ने पुलिस एनकाउंटर पर सवाल उठाए हैं. साथ ही न्याय की मांग की है.
    हैदराबाद गैंगरेप पीड़िता के आरोपियों के एनकाउंटर मामले में तेलंगाना हाईकोर्ट ने संज्ञान लिया है. कोर्ट ने सोमवार रात 8 बजे तक शवों को सुरक्षित रखने का आदेश दिया है.
    हैदराबाद गैंगरेप और हत्याकांड के आरोपी चिंताकुटा की पत्नी रेनुका ने कहा कि मेरे पति की मौत के बाद अब कुछ बचा नहीं हैं. पुलिस मुझको भी उस जगह लेकर चले जहां मेरे पति की हत्या की और मुझको भी वहां मार दे.
    मुंबई के कुछ वकीलों ने सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश को हैदराबाद में गैंगरेप के आरोपियों के एनकाउंटर को लेकर पत्र लिखा है. वकीलों ने अपने पत्र में एनकाउंटर में शामिल पुलिस वालों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की मांग की है. पत्र में आरोप लगाया गया है कि एनकाउंटर के नाम पर चारों आरोपियों की पुलिस वालों ने हत्या कर दी. वकीलों ने पत्र याचिका के जरिए मामले की जांच सीबीआई से कराने की मांग की है.
    साइबराबाद पुलिस कमिश्नर वीसी सज्जनार ने बताया कि किस तरह डॉ दिशा के चारों आरोपियों का एनकाउंटर किया गया. यह एनकाउंटर सूरज निकलने से पहले सुबह 5:40 बजे से  6:15 बजे के बीच किया गया.
    हैदराबाद गैंगरेप के चारों आरोपियों के परिवार वालों ने उनके शव को लेने से इनकार कर दिया है. बता दें कि शुक्रवार की सुबह पुलिस ने एनकाउंटर में उन्हें मार गिराया था.
    सितंबर 2014 में सुप्रीम कोर्ट ने एनकाउंटर पर गाइडलाइंस जारी की थी. बता दें कि हैदराबाद में लेडी डॉक्टर से गैंगरेप और हत्या के बाद शव को जला देने वाले चारों आरोपियों को पुलिस ने एनकाउंटर में मार गिराया है. हालांकि,  पुलिस के इस एनकाउंटर पर कई सवाल उठ रहे हैं. ऐसे में शुक्रवार तड़के हुई इस मुठभेड़ की जांच हुई तो क्या खरी उतरेगी तेलंगाना पुलिस.
    साइबराबाद पुलिस के कमिश्नर वी. सी. सज्जनर ने इस दौरान बताया कि शुक्रवार सुबह वह उस क्षेत्र में सबूत इकट्ठे करने के लिए गए थे, लेकिन इसी दौरान आरोपियों ने पुलिस से हथियार छीनकर उनपर हमला कर दिया.

    एडवांस्ड सर्च

    रिलेटेड स्टोरी

    No internet connection

    Okay