एडवांस्ड सर्च

निर्भया केस किस रफ्तार से आगे बढ़ा, पिछले सात सालों में कब क्या हुआ. साल-दर साल इसकी पड़ताल हो उससे पहले जरूरी है जानना कि इस वक्त केस किस मोड़ पर खड़ा है, आगे क्या होगा, कब तक फांसी होगी, किस तारीख तक फांसी हो सकती है, किस दिन ब्लैक वारंट जारी होगा, इन कानूनी पहलुओं को जान और समझ लें.

Speak Now



x
Languages:    हिन्दी    English
About 30374 results (4 seconds)
    दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल 40 करोड़ की हेरोइन के साथ दो तस्करों को गिरफ्तार किया है. पकड़ में आए तस्करों के नाम गंगा प्रसाद और बलिदाद है. पुलिस ने दोनों के पास से 11 किलो हेरोइन बरामद की है.
    देश, दुनिया, खेल, बिजनेस और बॉलीवुड में क्‍या कुछ हुआ? जानने के लिए यहां पढ़ें, समय के साथ साथ खबरों का लाइव अपडेशन.
    वाराणसी के कालिका गली स्थित कालरात्रि मंदिर में बाकायदा मुख्य द्वार के साथ ही गर्भगृह सहित अन्य जगहों पर पोस्टर लगाए गए हैं, जिसमें बेटियों का सम्मान न करने वालों, बेटियों के जन्म पर दुखी होने वाले और दुराचारियों का मंदिर में प्रवेश वर्जित बताया गया है.
    छात्रा को इलाहाबाद हाई कोर्ट से जमानत मिली है. छात्रा बीते 20 सितंबर से ही जेल में बंद थी. छात्रा ने चिन्मयानंद पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है.
    निर्भया गैंगरेप केस के दोषी पवन गुप्ता ने पटियाला हाउस कोर्ट में निर्भया के दोस्त और केस के इकलौते गवाह अवनींद्र पांडे के खिलाफ याचिका दायर की है. इस याचिका पर पटियाला हाउस कोर्ट शुक्रवार को सुनवाई करेगा.
    निर्भया गैंगरेप के चारों दोषियों को फांसी की सजा जल्द दी जा सकती है. चार दोषियों में से एक गुनहगार पवन को मंगलवार को तिहाड़ जेल में शिफ्ट कर दिया गया था. इससे पहले वह मंडोली जेल में बंद था. इसके बाद से ही जल्द फांसी होने की खबरें चर्चा में हैं.
    महाराष्ट्र राज्य मानवाधिकार आयोग ने मुंबई पुलिस के आर्थिक अपराध विंग के प्रभारी ज्वाइंट कमिश्नर को अगले महीने समन किया है. ये समन पीएमसी बैंक घोटाले के सिलसिले में है. 
    अक्षय कुमार सिंह जब दिल्ली में आया था तो उसकी नई नई शादी हुई थी. उसे एक बच्चा भी है. घटना के वक्त वो बस में क्लीनर के तौर पर नौकरी कर रहा था. अब परिवार औरंगाबाद (बिहार) में रहता है. पत्नी बच्चे वही हैं. पिता बीमार रहते हैं. कोई देखने वाला नहीं है, कमाने वाला नहीं है.
    निर्भया को जल्द फांसी दिलाने की अर्जी पर बहस करने वाले वकील जितेंद्र झा का कहना है कि दोषी विनय ने भी कुछ वक्त पहले ही राष्ट्रपति के पास दया याचिका लगाई है यानी कुल मिलाकर यह चारों फांसी की सजा को रोकने के लिए लगातार इस तरह की याचिकाएं लगाकर देरी कर रहे हैं.

    एडवांस्ड सर्च

    रिलेटेड स्टोरी

    No internet connection

    Okay