एडवांस्ड सर्च

कश्मीर घाटी में नौजवानों में घर कर गई पुख्ता अलगाव की भावना और जैश-ए-मोहम्मद के उभार से बेहद खतरनाक हालात

Speak Now



x
Languages:    हिन्दी    English
About 30374 results (4 seconds)
    आतंकी संगठनों लश्कर-ए-तैयबा और जैश-ए-मुहम्मद के बीच जारी प्रतिद्वंद्विता एक विकृत प्रतिस्पर्धा के दौर में पहुंच गई है. इसमें देखा जाता है कि पाकिस्तान में बैठे अपने आकाओं को खुश करने के लिए कौन कितने ज्यादा दुस्साहसिक हमले कर सकता है
    संसद पर हमला करने वाले आतंकियों को पकड़ने की कई बार कोशिश की गई. लेकिन आज भी वे तीनों भारत की गिरफ्त से बाहर हैं. जानकारी के मुताबिक भारत के वो तीनों दुश्मन पाकिस्तान की पनाह में हैं.
    इस मुठभेड़ में दुबे को कई गोलियां लगी थीं लेकिन वो फौलादी इरादे की बदौलत सारी चोटों और दुश्वारियों से उभरे. दुबे जैसा ही जज़्बा चेतन चीता ने दिखाया. चेतन चीता के उपचार के दौरान भी दुबे उनसे मिले थे और उनके अनुभव ने भी चेतन चीता को रिकवरी में मदद की.
    जैश ने मीडिया को वॉट्सऐप मैसेज भेजकर हमले की जिम्मेदारी ली और दावा किया गया है कि ये हमला पिछले दिनों मारे गए जैश आतंकी नूर त्राली की मौत का बदला है.
    एनआईए ऑफिशियल्स ने बताया कि गिलानी के बेटों को समन भेजा गया था, जिसके बाद वे सुबह करीब 11 बजे नई दिल्ली में एजेंसी के हेडक्वार्टर पहुंचे, जहां उनसे मामले से जुड़े कई सवाल किए. गिलानी को पाकिस्तान समर्थक अलगाववादी नेता माना जाता है.
    आजतक के ऑपरेशन हुर्रियत खुलासे का बड़ा असर हुआ है. एनआईए ने सोमवार को पाकिस्तान से फंडिग के मामले में 7 हुर्रियत नेताओं को गिरफ्तार किया. अब एनआईए मंगलवार को सभी नेताओं को पटियाला हाउस कोर्ट के सामने पेश कर सकती है. इन सात लोगों में बिट्टा कराटे, नईम खान, अल्ताफ फंटूस, शहीद उल इस्लाम सहित दूसरे हुर्रियत नेता शामिल हैं.
    सभी आरोपियों को मंगलवार सुबह पटियाला हाउस कोर्ट में पेश किया जाएगा. सुबह 10 बजे इनकी पेशी होगी. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक एनआईए इन सातों आरोपियों को रिमांड पर लेकर एक बार फिर गहन पूछताछ करेगी.
    एनआईए ने 3 जून को जब से हुर्रियत नेताओं के घर पर छापेमारी कर कई अहम सुराग इकट्ठे किए, उसके बाद से दिल्ली के हेडक्वार्टर में बिट्टा कराटे, नईम खान गाजी, जावेद बाबा, अल्ताफ फंटूस, शहीद उल इस्लाम सहित दूसरे कई लोगों से एनआईए कई राउंड पूछताछ कर चुकी है.
    छापों में करीब ढाई करोड़ कैश बरामद होने की खबर है. इसके अलावा करीब चालीस लाख की ज्वैलरी, सिक्के और जायदाद के दस्तावेज भी मिले हैं. तलाशी के दौरान एनआईए अधिकारियों को लश्कर-ए-तैयबा और हिज्बुल मुजाहिदीन जैसी आतंकी संगठनों के लेटरहेड मिले हैं.

    एडवांस्ड सर्च

    रिलेटेड स्टोरी

    No internet connection

    Okay