एडवांस्ड सर्च

मुंबई की लोकल मुसाफिरों की जान है, तभी इसे लाइफलाइन भी कहते हैं. हर दिन लाखों लोग स्थानीय ट्रेनों से सफर कर दफ्तर पहुंचते हैं. सुबह-सुबह अगर इसमें कोई गड़बड़ी आ जाए, तो लोगों पर क्या गुजरता होगी, समझना आसान है. सोमवार को कुछ ऐसा ही हुआ और लोग जहां-तहां फंसे नजर आए.

Speak Now



x
Languages:    हिन्दी    English
About 30374 results (4 seconds)

एडवांस्ड सर्च

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay