एडवांस्ड सर्च

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के गवर्नर शक्तिकांत दास ने सभी बैंकों से लोन और FD को रेपो रेट से लिंक करने को कहा है.

Speak Now



x
Languages:    हिन्दी    English
About 30374 results (4 seconds)
    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बैंकों से निवेदन किया है कि वे कम महंगाई या सस्ते कर्ज का फायदा ग्राहकों तक पहुंचाएं. पीएम मोदी ने आश्वस्त किया है कि ऑटो और रियल एस्टेट सेक्टर की मंदी जल्द ही खत्म होगी.
    हर साल देशभर में नागरिकों की ओर से तकरीबन साठ लाख आरटीआइ आवेदन दाखिल किए जाते हैं जिससे भारत का आरटीआइ कानून पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा इस्तेमाल में आने वाला पारदर्शिता कानून बन गया.
    ऑटो उद्योग जबरदस्त गिरावट की चपेट में, संकट को लंबा खिंचने से रोकने के लिए इस सेक्टर में और बड़े स्तर पर अर्थव्यवस्था में नीतिगत हस्तक्षेप बेहद जरूरी
    भारत के बैंकों के परिचालन वातावरण में कोई बदलाव नहीं होगा. लेकिन आर्थिक सुस्ती इस क्षेत्र के लिए चुनौतीपूर्ण रहेगी. यह बात सोमवार को रेटिंग एजेंसी मूडीज इन्वेस्टर्स सर्विस की रिपोर्ट में कही गई है.
    बॉन्ड से मिलने वाली राशि नहीं बल्कि यह महत्वपूर्ण होगा कि भारत अपने जोखिम का प्रबंधन कैसे करता है अब पूरी दुनिया को वित्तीय पारदर्शिता का विश्वास दिलाना होगा जिसके आधार पर भारत की संप्रभु साख तय होगी जो बताएगी कि दुनिया के बाजार में हम कहां खड़े हैं. जो रेटिंग हमें विदेश में मिलेगी, देश का बाजार भी उसी हिसाब से कर्ज देगा.
    IL&FS का टॉप मैनेजमेंट सहयोगी कंपनी आईफिन का भी काम देखता था. कंपनी नॉन बैंकिंग बिजनेस में थी. इसका काम लोन देना था, लेकिन ये काम मैनेजमेंट ने ठीक से नहीं किया, नतीजा आईफिन से कई ऐसी कंपनियों ने भी लोन ले लिया जो उधार चुकता नहीं कर पाईं और दिवालिया हो गईं.
    एक फॉलोअप कार्रवाई में CBDT द्वारा एक सिक्योरिटी कंपनी के खिलाफ तलाशी अभियान चलाया गया जो कि कारोबारी प्रतिष्ठानों और प्रमुख लोगों को सुरक्षा व्यवस्था प्रदान करने के कारोबार में है. सर्च ऑपरेशन से यह पता चला है कि विभि‍न्न पब्लि‍क सेक्टर के बैंकों के करीब 74 करोड़ रुपये के कर्ज को दूसरी जगहों पर लगा दिया गया.
    लगातार तीन कारोबारी दिन बढ़त के साथ बंद होने वाला शेयर बाजार गुरुवार को लाल निशान पर रहा. कारोबार के दौरान यस बैंक के शेयर 13 फीसदी से अधिक टूट गए.
    सप्‍ताह के चौथे कारोबारी दिन भारतीय शेयर बाजार की सपाट शुरुआत हुई. शुरुआती कारोबार में यस बैंक के शेयर 15 फीसदी तक टूट गए.

    एडवांस्ड सर्च

    रिलेटेड स्टोरी

    No internet connection

    Okay