एडवांस्ड सर्च

लोकसभा चुनाव में हार के लिए राजस्थान के कांग्रेस प्रत्याशियों ने अपनी पार्टी के नेताओं को जिम्मेदार ठहराया है. उनका कहना है कि कांग्रेस पार्टी के नेताओं की गद्दारी की वजह से लोकसभा चुनाव में पार्टी को हार का सामना करना पड़ा.

Speak Now



x
Languages:    हिन्दी    English
About 30374 results (4 seconds)
    लोकसभा चुनाव में हार के बाद जल्द ही उत्तर प्रदेश में एक बार फिर प्रियंका गांधी और ज्योतिरादित्य सिंधिया का इम्तिहान होने वाला है. सूबे में खाली हुई 13 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव होने जा रहा है, जिसमें से प्रियंका गाधी के प्रभार वाले इलाके की 7 सीटें और सिंधिया के पश्चिमी यूपी की 6 सीटें हैं.
    गुजरात राज्यसभा चुनाव मामले में सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग ने नोटिस जारी किया. सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि इसमें इलेक्शन पिटिशन जैसी कोई बात नहीं दिखती, ये रिट नहीं है लिहाजा अनुच्छेद 32 के तहत आती है. सुनवाई के दौरान कोर्ट देखेगा कि सीट कैसे खाली हुई ? कैजुअल वैकेंसी है या रेगुलर. सोमवार तक चुनाव आयोग याचिका में उठाए गए मुद्दों पर जारी कोर्ट नोटिस का जवाब दाखिल करेगा.
    दिल्ली नगर निगम के सबसे ताकतवर पद माने जाने वाले स्टैंडिंग चेयरमैन के पद पर भारतीय जनात पार्टी (बीजेपी) ने अपने पुराने और अनुभवी चेहरों पर दांव लगाया है.
    तीनों निगम में सबसे बड़ी नॉर्थ एमसीडी के लिए दिल्ली बीजेपी ने उपाध्यक्ष और जल बोर्ड के मेंबर जय प्रकाश को चेयरमैन पद के लिए उतारा है. वहीं साउथ एमसीडी में पार्टी के पुराने नेता भूपेंद्र गुप्ता को, जिन्हें संगठन का पुराना नेता माना जाता है. और ईस्ट एमसीडी के लिए बीजेपी ने संदीप कपूर को चुना है.
    गुजरात कांग्रेस के नेता परेशभाई धनानी ने चुनाव आयोग की अधिसूचना को चुनौती दी है. बता दें कि बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी इस बार लोकसभा सांसद चुने गए हैं, ऐसे में उनकी सीट खाली हुई है जिसपर चुनाव होना है. 
    पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान ने जिसे नया आईएएसआई चीफ बनाया है, उस अफसर पर चुनाव के दौरान नवाज शरीफ ने गंभीर आरोप लगाए थे.
    गुजरात में राज्यसभा चुनाव को लेकर कांग्रेस आज सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल कर रही है. गुजरात से राज्यसभा में खाली हुई दो सीटों पर भी 5 जुलाई को चुनाव होंगे. कांग्रेस दोनों सीटों के लिए जारी चुनाव आयोग की अधिसूचना को चुनौती देगी.
    जो उम्मीदवार आवेदन करना चाहते हैं उन्हें स्‍टाफ सेलेक्‍शन कमीशन मौका दे रहा है. जानें- कैसे कर सकते है.
    लोकसभा चुनाव में मिली प्रचंड जीत के बाद अब भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की नजर दिल्ली विधानसभा चुनाव की ओर है. दिल्ली में बीजेपी 22 सालों से सत्ता से दूर है.

    एडवांस्ड सर्च

    रिलेटेड स्टोरी

    No internet connection

    Okay