एडवांस्ड सर्च

Traffic Advisory: दिल्ली में गणतंत्र दिवस की रिहर्सल के कारण सुबह 9 बजे से दोपहर 12 तक आज और कल कई सड़कें बंद रहेंगी. इसमें रफी मार्ग, जनपथ और मानसिंह रोड शामिल है.

Speak Now



x
Languages:    हिन्दी    English
About 30374 results (4 seconds)
    विश्व पुस्तक मेला 2020 अब खत्म हो चुका है. ऐसे में आयोजक राष्ट्रीय पुस्तक न्यास की इस बात के लिए तारीफ की जानी चाहिए कि उसने बच्चों के बीच किताबों की मार्फत अपनी पैठ बढ़ाई है.
    हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला, मनाली, कुफरी और डलहौजी में मंगलवार को बर्फबारी हुई. हिमपात से सूबे के करीब सौ से ज्यादा रास्ते बंद हो गए. केलोंग में सबसे कम माइनस सात डिग्री तापमान दर्ज हुआ.
    देश की राजधानी दिल्ली में बेसहारा महिलाओं के लिए बने 14 शेल्टर होम्स को लेकर टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ सोशल साइंसेज (टिस) ने 143 पन्नों की एक चौंकाने वाली रिपोर्ट जारी की. इस रिपोर्ट के मुताबिक, यहां रहने वाली महिलाओं का यौन उप्पीड़न हो रहा है. इस रिपोर्ट का संज्ञान लेते हुए दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालिवाल ने एफआईआर दर्ज करा दी है.
    नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) और राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (एनआरसी) के खिलाफ दिल्ली के शाहीन बाग में चल रहे आंदोलन को पुलिस ने खत्म करने की अपील की है. दरअसल, 15 दिसंबर से शाहीन बाग में महिलाएं धरने पर बैठी हैं.
    चीन और नेपाल की सीमा पर उच्च और उच्च मध्य हिमालय की दारमा, व्यास और चौदास घाटियों के मूल निवासियों को रं कहा जाता है. इस समाज की सबसे बड़ी विशेषता यह है कि इस समुदाय के लोग देश, विदेश में कहीं भी रहें, लेकिन अपने लोकजीवन और बोली से जुड़े रहते हैं.
    सर्वे रिपोर्ट स्वाधार गृहों में गंभीर अनियमितताओं की ओर इशारा करती है. खुद महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा कहती हैं, ''5 राज्यों में किए गए इस सर्वे में इन गृहों की हालत बेहद खराब पाई गई.''
    लक्ष्मी ने लाल रंग की साड़ी पहन रखी थी और बालों पर चमेली के फूलों का गजरा लगा रखा था. वहीं मेनन पारंपरिक ऑफ-व्हाइट पारंपरिक मुंडू और एक शर्ट पहनी हुई थी. एक यूजर ने लिखा, "केरल वृद्ध आश्रम का यह पहला विवाह है. कोचानियन वेड्स लक्ष्मी अम्माल..बधाई."
    पेजावर मठ के प्रमुख विश्वेश तीर्थ स्वामी के निधन पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि विश्वेश तीर्थ स्वामी सकारात्मकता का अंतहीन स्रोत थे. उनके विचार हमेशा हमारा मार्गदर्शन करेंगे. उनका निधन आध्यात्मिक दुनिया के लिए एक अपूरणीय क्षति है. उनके अनुयायियों के प्रति संवेदना.
    शिबू सोरेन ने झारखंड में क्रांति की जो चिंगारी लगभग 50 पहले जलाई थी वो कितनी मुकम्मल हो सकी ये तो बहस का विषय है, लेकिन इतना जरूर है कि आज जिस विरासत के बूते हेमंत सोरेन झारखंड के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली है, उसकी शुरुआत शिबू सोरेन ने लगभग आधी सदी पहले झारखंड के घने जंगलों में की थी.

    एडवांस्ड सर्च

    रिलेटेड स्टोरी

    No internet connection

    Okay