एडवांस्ड सर्च

बढ़ते प्रदूषण को लेकर शुक्रवार को शहरी विकास मंत्रालय की संसदीय स्टैंडिंग कमेटी की बैठक हुई थी, जिसमें कई सांसद नदारद रहे. बैठक में ना पहुंचने वालों में पूर्वी दिल्ली से बीजेपी सांसद और पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर भी रहे.

Speak Now



x
Languages:    हिन्दी    English
About 30374 results (4 seconds)
    बैठक में ना पहुंचने वालों में बीजेपी के सांसद और पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर भी रहे, अब इसी मसले पर आम आदमी पार्टी ने उनपर निशाना साधा है. AAP ने पूछा है कि क्या प्रदूषण को लेकर गंभीरता कमेंट्री बॉक्स तक ही सीमित है?
    कांग्रेस ने कहा कि दिल्ली सरकार ने स्कूली बच्चों को मास्क बांटने के लिए 10 करोड़ रुपये खर्च किए, लेकिन बच्चों को मास्क नहीं मिला. केजरीवाल सरकार ने 40 करोड़ रुपये विज्ञापन पर खर्च किए, अगर उस पैसे से मास्क खरीदा गया होता तो दिल्ली वालों को राहत मिली होती.
    सुप्रीम कोर्ट ने आज गुरुवार को राफेल डील को लेकर दाखिल की गई 3 पुनर्विचार याचिकाओं को खारिज कर दिया. शीर्ष अदालत ने इस मामले पर फैसला पढ़ते हुए याचिकाकर्ताओं की ओर सौदे की प्रक्रिया में गड़बड़ी की सभी दलीलें खारिज कर दीं.
    सुप्रीम कोर्ट ने राफेल सौदे की जांच के लिए दायर की गईं पुनर्विचार याचिका को खारिज कर दिया है. फैसला पढ़ते हुए अदालत ने कहा है कि इस मामले में जांच या एफआईआर की कोई जरूरत नहीं है.
    आम आदमी पार्टी के मंत्री, विधायक, पार्षद और नेता अलग-अलग इलाकों में कच्ची कॉलोनी की रजिस्ट्री के मुद्दे पर मोदी सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करेंगे.
    महाराष्ट्र में कांग्रेस-शिवसेना और एनसीपी के बीच सरकार बनाने की खिचड़ी पक रही है. वैचारिक रूप से कांग्रेस और शिवसेना एक दूसरे के विरोधी हैं, इसी के चलते लोग इनके साथ आने पर आश्चर्यचकित हैं. हालांकि दो विरोधी दलों का यह कोई पहला गठबंधन नहीं है बल्कि कई ऐसे दलों के गठबंधन हुए हैं, जो वैचारिक और राजनीतिक रूप से एक दूसरे कट्टर विरोधी रहे हैं.
    जहरीली धुंध में लिपटी राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली बमुश्किल ही नजर आ रही है. और यह प्रलय की भविष्यवाणियां करती सुर्खियों तथा प्रलय के बाद की तस्वीरों की विषयवस्तु बन गई है
    दिल्ली विधानसभा चुनाव को लेकर दिल्ली चुनाव आयोग ने 15 नवंबर को दिल्ली के सभी पार्टियों की बैठक बुलाई है. इसमें वोटर ल‍िस्ट और चुनाव खर्च जैसे मुद्दों पर बात होने की संभावना जताई जा रही है.
    केवल जालंधर शहर में ही एक्यूआई का स्तर 217 दर्ज किया गया, जोकि खराब श्रेणी मानी जाती है. पंजाब व हरियाणा की संयुक्त राजधानी चंडीगढ़ में भी एक्यूआई संतोषजनक श्रेणी के साथ 86 दर्ज किया गया.

    एडवांस्ड सर्च

    रिलेटेड स्टोरी

    No internet connection

    Okay