एडवांस्ड सर्च

आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास शुक्रवार को मीडिया के सामने मुखातिब हुए. इस दौरान उन्‍होंने रेपो रेट कटौती, ईएमआई मोहलत समेत कई बड़े ऐलान किए.

Speak Now



x
Languages:    हिन्दी    English
About 30374 results (4 seconds)
    सप्‍ताह के चौथे कारोबारी दिन यानी गुरुवार को भारतीय शेयर बाजार की शुरुआत उतार-चढ़ाव के साथ हुई. लाल निशान पर खुलने के बाद सेंसेक्‍स में रिकवरी दिखी.
    आर्थिक पैकेज से निराश शेयर बाजार में अब रिकवरी दिखने लगी है. लगातार दूसरे कारोबारी दिन सेंसेक्‍स और निफ्टी बढ़त के साथ कारोबार करते देखे गए.
    सप्‍ताह के पहले दिन सेंसेक्स 1,068 अंक यानी 3.44 प्रतिशत लुढ़क कर 30,028 अंक पर बंद हुआ था.
    देश, दुनिया, महानगर, खेल, आर्थिक और बॉलीवुड में क्‍या कुछ हुआ. जानने के लिए यहां पढ़ें समय के साथ साथ खबरों का लाइव अपडेशन.
    लगातार पांच ​दिन वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने प्रेस कॉन्‍फ्रेंस कर 20 लाख करोड़ के पैकेज से परदा पूरी तरह से हटा दिया है. इसके बाद शेयर बाजार आज खुला और बाजार लाल निशान में दिख रहे हैं. बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का सेंसेक्स करीब 972 अंकों की गिरावट के साथ 30,125 पर पहुंच गया. कारोबार के अंत में सेंसेक्स 1,068.75 अंक या 3.44 फीसदी टूटकर 30028.98 पर बंद हुआ.
    पीएम नरेंद्र मोदी ने देश को संबोधित करते हुए 20 लाख करोड़ रुपये के राहत पैकेज का ऐलान किया था. इसके बाद वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण दो बार प्रेस कॉन्‍फ्रेंस कर चुकी हैं.
    कोविड-19 के असर से अर्थव्यवस्था को उबारने के लिए दिया गया राहत पैकेज भारतीय शेयर बाजार को रास नहीं आया. बुधवार की घोषणा के बाद गुरुवार को बाजार की चाल इसकी ताकीद करता है.
    बुधवार को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पहली किस्‍त का ब्यौरा जनता के सामने रखा. इस पैकेज को लेकर शेयर बाजार की प्रतिक्रिया काफी निराश करने वाली है.
    वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बुधवार को राहत पैकेज का ब्यौरा जनता के सामने रखा. इसका निगेटिव असर भारतीय शेयर बाजार पर भी दिखा है.

    एडवांस्ड सर्च

    रिलेटेड स्टोरी

    No internet connection

    Okay