एडवांस्ड सर्च

सुल्तानपुर माजरा चुनाव नतीजे 2020 (Sultanpur Majra Election Result 2020): सुल्तानपुर माजरा विधानसभा सीट पर आम आदमी पार्टी (AAP) ने मुकेश कुमार अहलावत मैदान में थे. वहीं, भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की तरफ से राम चंदर चावरिया जबकि कांग्रेस की ओर से जय किशन मैदान में थे.

Speak Now



x
Languages:    हिन्दी    English
About 30374 results (4 seconds)
    Delhi Assembly Elections 2020 Voting: दिल्ली की 70 विधानसभा सीटों के लिए वोटिंग शुरू हो गई है. कांग्रेस, आम आदमी पार्टी और बीजेपी के बीच त्रिकोणीय मुकाबला माना जा रहा है. दिल्ली की 10 विधानसभा सीटें ऐसी हैं, जहां कांटे का मुकाबला माना जा रहा है. अलका लांबा से लेकर आतिशी तक की साख दांव पर लगी है.
    नागरिकता संशोधन कानून (सीएए), एनआरसी और एनपीआर के विरोध में बिहार में यात्रा कर रहे पूर्व छात्र नेता कन्हैया कुमार के काफिले पर फिर से हमला हुआ है. हमले में वह घायल तो नहीं हुए, लेकिन असामाजिक तत्वों की ओर से उन्हें परेशान किया जा रहा है.
    रविवार को उत्तर प्रदेश के जनपद हापुड़ में सिटी कोतवाली पुलिस ने पीएफआई के एक सदस्य को पुरानी चुंगी से गिरफ्तार किया है. पुलिस आरोपी के बैंक खातों को खंगालने के साथ अन्य सदस्यों की तलाश कर रही है. आरोपी उपद्रव मचाने में भी शामिल था.
    शिकायतकर्ता कावेरी बाजार का ज्वैलर है. जिसे आरोपी ने धमकी देते हुए शुरुआत में पांच किलो सोना मांगा था. मुंबई क्राइम ब्रांच की क्रिमिनल इंटेलिजेंस यूनिट ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है.
    पिछले विधानसभा चुनाव की बात की जाए तो सुल्तानपुर माजरा विधानसभा सीट पर आम आदमी पार्टी के संदीप कुमार ने बाजी मारी थी. उन्होंने चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के प्रभु दयाल को 64,439 मतों के अंतर से हराया था. हार-जीत के लिहाज से देखें तो 55.8 फीसदी का अंतर रहा.
    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह पर विवादित बयान के बाद इतिहासकार इरफान हबीब को नोटिस भेजा गया है. अलीगढ़ सिविल कोर्ट के एक वकील ने मंगलवार को इरफान हबीब को नोटिस भेजा.
    इराक में ईरानी कमांडर सुलेमानी के खात्मे की रात ही अमेरिका ने एक और सीक्रेट ऑपरेशन किया था. यमन में ईरानी कमांडर अब्दुल रजा शहलाई को मारने के लिए. लेकिन ट्रंप प्रशासन की ये प्लानिंग फेल रही. जानिए कौन है कमांडर शहलाई और अमेरिका क्यों इसे मानता है अब अपना सबसे बड़ा दुश्मन.
    आबकारी विभाग के निरीक्षक सुरेश चौधरी अपने अधिकारी के पास बैठे हुए थे. इसी दौरान सिपाही संदीप कुमार मौके पर पहुंचे और आपस में किसी बात को लेकर तकरार हो गई. देखते ही देखते दोनों की बात इतनी बढ़ती चली गई और आपस में लात-घूंसे चलने लगे.
    निर्भया गैंगरेप के दोषियों का दिल्ली की अदालत से डेथ वारंट जारी होते ही तिहाड़ जेल प्रशासन ने फांसी की तैयारी युद्ध स्तर पर शुरू कर दी है.

    एडवांस्ड सर्च

    रिलेटेड स्टोरी

    No internet connection

    Okay