एडवांस्ड सर्च

09:49

शुभ मंगल सावधान में टैरो कार्ड रीड श्रुति द्विवेदी आपको देंगी कई मंगलकारी टिप्स. जिससे है, आपका सीधा सारोकार. इसके अलावा दैनिक राशिफल की सटीक भविष्यवाणी होगी. शो में जिनका आज जन्मदिन है उनके भी होंगे कुछ खास उपाय. जिससे वो अपने जीवन की छोटी-छोटी मुश्किलों से आसानी से पार पा सकें.

Speak Now



x
Languages:    हिन्दी    English
About 30374 results (4 seconds)
    09:08
    ज्‍योतिष में चंद्रमा एक ऐसा ग्रह है, जो है तो बहुत छोटा, लेकिन काफी प्रभावशाली है. और चंद्रमा अगर जीवन में मुश्‍किल पैदा करता है तो वह अकेला आपकी जिंदगी को तबाह करने के लिए काफी है. किस्‍मत कनेक्‍शन में बताएंगे कि अगर चंद्रमा आपकी जिंदगी में बुरा प्रभाव पैदा कर रहा है तो इसे कैसे दुरुस्‍त करेंगे, आज इस विषय पर बात करेंगे. साथ ही बात आपकी राशियों की करेंगे और आपके सवाल का जवाब भी देंगे, लेकिन सबसे पहले जानेंगे आज का गुडलक. 
    09:48
    शुभ मंगल सावधान में टैरो कार्ड रीडर श्रुति द्विवेदी से जानिए दैनिक राशिफल. मेष राशिवालों का व्यवसाय ठीक चलेगा. पुराने मित्र व संबंधियों से मुलाकात होगी. व्यय होगा. प्रसन्नता रहेगी. व्यापार में नए अनुबंध लाभकारी रहेंगे. वृष राशिवालों के लिए यात्रा, नौकरी व निवेश मनोनुकूल रहेंगे. रोजगार‍ मिलेगा. अप्रत्याशित लाभ संभव है. जोखिम न लेंय. धर्म के कार्यों में रुचि आपके मनोबल को ऊंचा करेगी. मिलनसारिता व धैर्यवान प्रवृत्ति जीवन में आनंद का संचार करेगी. कई दिनों से रुका पैसा मिल सकेगा. साथ ही जिनका आज जन्मदिन है उनके लिए कुछ खास टिप्स.
    11:18
    शुभ मंगल सावधान में टैरो कार्ड रीडर श्रुति द्विवेदी से जानिए दैनिक राशिफल. इसके अलावा जानें, कई ढेर सारी ऐसी जानकारियां जिनका सीधा आप से है सारोकार. जिनका आज जन्मदिन है उनके लिए कुछ टिप्स. देखें वीडियो.
    09:34
    मैं भाग्य हूं... आपकी अपनी तकदीर.... आपका अपना मुकद्दर... पर कभी आपने ये सोचा है, आपका भाग्य असल में क्या है. अगर नहीं सोचा तो आज समझने का प्रयास करें. आपका भाग्य असल में आपका व्यवहार है, आपके कर्म हैं और आपकी फितरत है. वैसे तो इंसानी फितरत बहुत अजीब होती है. कभी-कभी उसे समझना बहुत मुश्किल हो जाता है. हम सभी चाहते हैं कि अपने जीवन में सफलता हासिल करें. लेकिन कभी-कभी अपनी आदतों के कारण अपनी इस ख्वाहिश से दूर रहे जाते हैं. अपनी हरकतों से हम खुद को ही खत्म कर लेते हैं. इन आदतों के लिए हम दूसरों को भी दोष नहीं दे सकते हैं.
    08:29
    चाल चक्र में आज हम आपको बताएंगे भैरव अष्टमी से जुड़ी कुछ खास बातें.  तंत्र साधना में, विशेष रूप से शिव की तंत्र साधना में भैरव का विशेष महत्व है. भैरव वैसे तो शिव जी के ही रौद्र रूप हैं, परन्तु कहीं- कहीं पर इनको शिव का पुत्र भी माना जाता है. ये भी माना जाता है जो भी शिव के मार्ग पर चलता है, उसे भैरव कहा जाता है.  इनकी उपासना से भय और अवसाद का नाश होता है, व्यक्ति को अदम्य साहस मिल जाता है.  शनि और राहु की बाधाओं से मुक्ति के लिए भैरव की पूजा अचूक होती है.  शत्रु और विरोधियों को शांत करने के लिए इनकी पूजा अवश्य करें.  कालभैरव की जयंती पर उन्हें विशेष वस्तुएं अर्पित करनी चाहिए. इससे भय और शत्रु बाधा का नाश होता है.
    09:40
    शुभ मंगल सावधान में आज हम आपको बताएंगे भैरव जयंती के बारे में. आज है भैरव अष्टमी इसे हम काल भैरव जयंती भी कहते हैं. यानी काल भैरव की पूजा का दिन है. इस दिन कुछ खास उपाय करने करने से लाभ होता है. रोटी पर अपनी तर्जनी और मध्यमा अंगुली से तेल में डुबोकर लाइन खींचें.  यह रोटी किसी भी दो रंग वाले कुत्ते को खाने को दें. इस क्रम को जारी रखें, लेकिन सिर्फ हफ्ते के तीन दिन (रविवार, बुधवार व गुरुवार). यही तीन दिन भैरवनाथ के माने गए हैं.Bhairava Ashtami 2019 Shubh Muhurat, Puja timings, Puja Vidhi: In this episode of Shubh Mangal Savdhan, our astrologer Shruti Dwivedi will tell you about Bhairava Ashtami or Kala-Bhairava Jayanti. Bhairava Ashtami, also known as Bhairavashtami, Bhairava Jayanti, Kala-Bhairava Ashtami and Kala-Bhairava Jayanti is a Hindu holy day commemorating the birthday of Bhairava, a fearsome and wrathful manifestation of the Lord Shiva. Know simple tips to offer prayers to Lord Shiva on this day. Also, know the astrological prediction for your zodiac sign.
    15:17
    कोई भी दिन आपको बहुत पॉजिटिव नतीजे दे सकता है. दिन में आपको नहीं पता कौनसा ऐसा पल छिपा है. जो आपकी जिंदगी को नई दिशा दे दे. दिन को कैसे प्लान करना है, क्या करना है, क्या नहीं करना है. यह सब आपको बताएंगे ज्योतिष गुरु दीपक कपूर जी. 
    09:55
    मैं भाग्य हूं... मैं रोज इस वक्त आपसे मिलने आता हूं और कर्म करने की सलाह देता हूं. नैतिकता का पाठ बताता हूं, तो भला आज कैसे नहीं आता और आज मैं आपसे यह कहने आया हूं, अगर इंसान कर्म करे वो भी बिना लालच के तो उसका नतीजा हमेशा अच्छा रहता है और जिस चीज के लिए वो लालच करता है. उससे भी ज्यादा उसे मिल जाता है. आज में आपको वही बात बताउंगा एक कहानी के जरिए. साथ ही जानिए दैनिक राशिफल.
    09:23
    चाल चक्र में आज हम आपको बताएंगे दैनिक जीवन में कैसे करें पूजा उपासना. सुबह उठकर पूजा स्थान की साफ सफाई करें.  पूजा स्थान के फूलों और राख आदि को इधर- उधर न फेंके या तो क्यारी में डाल दें या जमीन में दबा दें.  स्नान करने के बाद पूजा के लिए बैठें. आसन ऊनी या मोटा सूती हो तो अच्छा होगा. चाहें तो दीपक जला लें, सुगंध के लिए धूपबत्ती जला सकते हैं. इसके बाद पहले प्रार्थना करें कि आपकी पूजा सफल हो.  

    एडवांस्ड सर्च

    रिलेटेड स्टोरी

    No internet connection

    Okay