एडवांस्ड सर्च

मुख्य न्यायधीश यानी चीफ जस्टिस का कार्यालय अब सूचना के अधिकार के तहत आएगा. इस निर्णय को लेते हुए अदालत ने कई टिप्पणियां कीं, जिनमें से एक ये भी रही कि कानून से ऊपर कोई भी नहीं है, सुप्रीम कोर्ट के जज भी नहीं.

Speak Now



x
Languages:    हिन्दी    English
About 30374 results (4 seconds)
    चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अगुवाई वाली बेंच कल सुबह 10.30 बजे फैसला सुनाएगी. बता दें कि 17 नवंबर को CJI रिटायर हो रहे हैं, उससे पहले वह बड़े मामलों पर फैसला सुना रहे हैं.
    बड़े पैमाने पर टैक्स चोरी को जब तक शह मिलती रहेगी, टैक्स आतंकवाद का अनचाहा तमगा भी लटका रहेगा.
    दशकों से लंबित और राजनीतिक दृष्टि से सबसे अहम अयोध्या मामले में शनिवार को फैसला आ गया. भारत के मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई को 17 नवंबर को सेवानिवृत्त होना है. 13 नवंबर को सुप्रीम कोर्ट का कामकाज शुरू होने पर चीफ जस्टिस गोगोई के लिए तीन दिन का कार्यकाल ही बचा है. ऐसे में इन तीन दिनों में कई और अहम फैसले आने हैं. 
    व्हाट्सएप जासूसी मामले पर जारी विवाद थमता नजर नहीं आ रहा है. कांग्रेस के दिग्गज नेता कपिल सिब्बल ने केंद्र सरकार से सवाल किया है.
    कवि सुरेंद्र शर्मा ने कुएं और नदी की ऐसी पक्तियां गढ़ीं, जिसे सुनकर हर कोई वाह-वाह करने लगे. वहीं, हरियाणा की रानजीति पर अरुण जैमिनी ने तीखे व्यंग किए, जबकि सुनील जोगी ने 'मुश्किल है अपना मेल प्रिये' से समां बांधा.
    04:08
    व्हाट्सएप जासूसी विवाद में सरकार ने व्हाट्सएप से जवाब मांग लिया है.  सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने चार नवंबर तक व्हाट्सअप से जवाब देने को कहा है.  इस पर राहुल गांधी ने मामले को राफेल से जोड़ते हुए सरकार पर तीखा तंज कसा.  रकार ने वॉट्सऐप से पूछा है कि भारतीय नागरिकों की जासूसी के लिए पेगासस को किसने खरीदा है, यह ठीक वैसे ही है जैसे मोदी का दसॉल्ट से यह पूछना कि राफेल जेट भारत को बेचकर किसने पैसे कमाए.
    कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने भी इस मसले पर मोदी सरकार को निशाने पर लिया है. प्रियंका ने कहा है कि अगर ये सच है तो ये मानवाधिकार और राष्ट्रीय सुरक्षा का उल्लंघन है, सरकार को इसपर जवाब देना चाहिए.
    इजरायल की साइबर खुफिया कंपनी एनएसओ ग्रुप की ओर से भारतीय मानवाधिकार कार्यकर्ता और पत्रकारों को स्पाइवेयर द्वारा टारगेट कर उनकी जासूसी की गई. गुरुवार को जब ये मामला सामने आया तो विपक्ष ने एक बार फिर मोदी सरकार को निशाने पर लिया.
    देश, दुनिया, खेल, बिजनेस और बॉलीवुड में क्‍या कुछ हुआ? जानने के लिए यहां पढ़ें, समय के साथ साथ खबरों का लाइव अपडेशन.

    एडवांस्ड सर्च

    रिलेटेड स्टोरी

    No internet connection

    Okay