एडवांस्ड सर्च

बदसलूकी का वीडियो वायरल होने के बाद अमेठी के डीएम प्रशांत कुमार को हटा दिया गया है. बीजेपी नेता के बेटे की हत्या के बाद गुस्साई भीड़ को समझाने की बजाए अमेठी के डीएम प्रशांत कुमार अपना आपा खो बैठे थे और मृतक के भाई और पीसीएस अधिकारी का कॉलर पकड़कर बदसलूकी की थी.

Speak Now



x
Languages:    हिन्दी    English
About 30374 results (4 seconds)
    सुप्रीम कोर्ट के ऐतिहासिक फैसले के बाद शिया वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिजवी आज अयोध्या जाएंगे. राम मंदिर निर्माण को लेकर वसीम रिजवी साधु-संतों से मुलाकात करेंगे. वसीम रिजवी हमेशा से अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के पक्ष में रहे हैं.
    ट्रस्ट में केंद्र, राज्य सरकार, राम मंदिर न्यास, निर्मोही अखाड़े के सदस्यों सहित रिटायर्ड जजों को शामिल किया जा सकता है. फिलहाल केंद्रीय गृह मंत्रालय और कानून मंत्रालय ट्रस्ट के प्रारूप पर अध्ययन कर रहा है.
    अयोध्या पर फैसले के दिन उत्तर प्रदेश में बीते ढाई साल में पहला मौका था जब पूरे सूबे में एक भी हत्या, लूट, अपहरण, बलात्कार और डकैती जैसी कोई वारदात नहीं हुई. इस तरह से फैसले के दिन यूपी अपराधमुक्त रहा.
    सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद अयोध्या में राम मंदिर बनाने की प्रक्रिया शुरू हो गई है. सूत्रों के मुताबिक, मंदिर निर्माण के लिए मोदी सरकार की ओर से बनाए जाने वाले ट्रस्ट में 4 संगठनों को रखा जा सकता है. इस ट्रस्ट को तीन महीने में बनाया जाएगा.
    अयोध्या पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर रामजन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष नृत्य गोपाल दास ने बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा कि राम मंदिर बनाने के लिए किसी नए ट्रस्ट की जरूरत नहीं है. मेरा ट्रस्ट ही मुख्य कर्ताधर्ता रहेगा. जरूरत पड़ने पर और लोगों को शामिल किया जा सकता है.
    देश, दुनिया, खेल, बिजनेस और बॉलीवुड में क्‍या कुछ हुआ? जानने के लिए यहां पढ़ें, समय के साथ साथ खबरों का लाइव अपडेशन.
    सीएम ने उन्हें नरेंद्र मोदी सरकार की प्रधानमंत्री आवास योजना, उज्ज्वला योजना, सौभाग्या योजना और अन्य फ्लैगशिप योजनाओं के बारे में बताया.
    अयोध्या पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से शिया व सुन्नी धर्मगुरुओं का एक प्रतिनिधिमंडल मिलने पहुंचा. इस प्रतिनिधिमंडल ने सीएम योगी के समक्ष अपनी कुछ मांगें रखीं.
    अखिल भारतीय हिंदू महासभा ने 1992 के कारसेवकों से मुकदमा वापस लेने की मांग की है. इस बाबत हिंदू महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चक्रपाणि महाराज ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को खत लिखा है.

    एडवांस्ड सर्च

    रिलेटेड स्टोरी

    No internet connection

    Okay