एडवांस्ड सर्च

उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था को लेकर समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने एक बार फिर योगी आदित्यनाथ सरकार को घेरा है. सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि यूपी पहले उत्तम प्रदेश था लेकिन अब हत्या प्रदेश बन गया है.

Speak Now



x
Languages:    हिन्दी    English
About 30374 results (4 seconds)
    भाजपा में शामिल हुए पूर्व सांसद संजय सिंह, उनकी पत्नी अमिता सिंह, पूर्व सांसद संजय सेठ, सुरेंद्र नागर ने आज यूपी के प्रदेश भाजपा मुख्यालय पर अपनी ताकत दिखाई. इन सभी नेताओं ने भाजपा की सदस्यता अभियान में हिस्सा भी लिया.
    योगी मंत्रिमंडल में जल्द ही फेरबदल हो सकता है और कई नए चेहरों को जगह मिल सकती है. शनिवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और राज्यपाल आनंदीबेन पटेल के बीच हुई मुलाकात के बाद से कैबिनेट में फेरबदल की अटकलें तेज हो गई हैं.
    उत्तर प्रदेश की राज्‍यपाल आनंदीबेन पटेल ने अपनी VIP सुरक्षा में 50 सुरक्षाकर्मी हटाने का निर्णय लिया है. वीआईपी कल्‍चर को खत्‍म करने की दिशा में उत्‍तर प्रदेश की राज्‍यपाल आनंदीबेन पटेल ने मजबूत कदम उठाया है.
    भारतीय जनता पार्टी संगठन के चुनाव तीन चरणों में होंगे. संगठन के चुनाव 11 सितंबर, 11 अक्टूबर और 11 नवंबर को कराए जाएंगे. यूपी भाजपा की हुई महत्वपूर्ण बैठक में यह तारीखें तय की गईं.
    उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के मुख्य चौराहे हजरतगंज का नाम बदलकर अटल चौक कर दिया गया है. पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की प्रथम पुण्यतिथि पर इसका ऐलान किया गया.
    प्रियंका गांधी सोनभद्र नरसंहार के बाद से लगातार यूपी सरकार पर लगातार हमलावर हैं. प्रियंका गांधी दो बार सोनभद्र का दौरा कर चुकी हैं और नरसंहार पीड़ितों की मदद कर चुकी हैं. इसके अलावा उन्नाव रेप पीड़िता की दुर्घटना के बाद भी उन्होंने यूपी सरकार को कटघरे में खड़ा किया.
    पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की आज (16 अगस्त) पहली पुण्यतिथि है. इस मौके पर उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की. 
    राजस्थान के बारां में लगातार बारिश से शहर पानी पानी हो गया है. घरों और बाजार में पानी की लहरें देखी जा रही हैं. राजस्थान के बूंदी जिले में 24 घंटे की बारिश से हालात बिगड़ गए हैं. सड़कों और बस्तियों में पानी भर गया है.
    मॉब लिंचिंग की घटनाएं देश में लगातार बढ़ती ही जा रही हैं. झूठी अफवाहों पर भरोसा कर भीड़ ने कइयों को मौत के घाट उतार दिया या बुरी तरह जख्मी करके छोड़ दिया लेकिन ऐसे आरोपियों पर एक्शन लेने में हमारा सिस्टम विफल रहा है. पहलू खान मॉब लिंचिंग मामले में कुछ ऐसा ही हुआ.

    एडवांस्ड सर्च

    रिलेटेड स्टोरी

    No internet connection

    Okay