एडवांस्ड सर्च

साहित्य आजतक में प्रसून जोशी ने समाज में फिल्मों की भूमिका पर चर्चा करते हुए कहा कि कानून प्रतिबंध लगाता है, लेकिन सबसे बड़े परिवर्तन सोच के माध्यम से आते हैं.

Speak Now



x
Languages:    हिन्दी    English
About 30374 results (4 seconds)
साहित्य आज तक के पांचवें सत्र में गीतकार, कवि और पटकथा लेखक प्रसून जोशी ने शिरकत की. उन्होंने अपनी यात्रा और कविता पर बात की.
साहित्य आजतक, 2017 के उद्घाटन सत्र में भजन गायक अनूप जलोटा और गजल गायक तलत अजीज ने शिरकत की. इस सत्र को अंजना ओम कश्यप ने होस्ट किया.
शुक्रवार की दोपहर जब सूरज पश्चिम की ओर चलना शुरू होगा, साहित्य आजतक के मंच पर पहले दिन के पहले सत्र में अनूप जलोटा और तलत अजीज भजन और गजल के स्वर फूंकेंगे. इन्हीं स्वरों के आधार में राष्ट्रीय कला केंद्र में होने वाला तीन दिवसीय महोत्सव रफ्ता-रफ्ता परवान चढ़ेगा.
साहित्य आज तक में प्रसिद्ध गीतकार, कवि और ऐड गुरु प्रसून जोशी ने 'मस्ती की पाठशाला' सत्र में कई खूबसूरत कविताएं सुनाई.

एडवांस्ड सर्च

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay