एडवांस्ड सर्च

05:22

e-Sahitya Aaj Tak 2020: लॉकडाउन के बीच आज ई-साहित्य आजतक कार्यक्रम का आयोजन हुआ. तीसरे दिन के कार्यक्रम में कई मशहूर हस्तियों ने शिरकत की. सोशल मीडिया सेंसेशन सलोनी गौर उर्फ नज्मा आपी ने भी कार्यक्रम में शिरकत की. बातचीत के दौरान उन्होंने कई मजेदार किस्से सुनाए. वहीं दिल्ली के प्रदूषण पर नज्मा आपी को क्यों याद आईं कैटरीना कैफ? जानने के लिए देखें वीडियो.

Speak Now



x
Languages:    हिन्दी    English
About 30374 results (4 seconds)
    NGT ने अपने आदेश में कहा है कि केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड राज्य स्तर पर, जबकि लोकल बॉडीज नगरपालिका लेवल पर कुछ नियम बनाए. जिसके आधार पर डेयरी से निकलने वाले कचरों के लिए गोशालाओं पर जुर्माना लगाया जाए जो कि वॉटर बॉडीज के लिए खतरा है, या फिर वायु प्रदूषण बढ़ा रहे हैं.
    लॉकडाउन का सबसे ज्यादा फायदा जंगली जानवरों और पशु-पक्षियों को ही मिल रहा है. राजस्थान में एक ऐसा ही नजारा देखने को मिला जहां पर कई सारे मोर सड़क पर आ गए और ट्रैफिक जाम कर दिया.
    यह महामारी एक बार इस्तेमाल वाले प्लास्टिक के खिलाफ भारत की मुहिम में अड़ंगा साबित हो रही है.
    अब जब हम सामान्य जीवन की ओर वापसी कर रहे हैं तो इस स्तर को बनाए रखना हमारे लिए एक चुनौती होगी. सभी राज्य सरकारों को प्रदूषण नियंत्रण के नियमों को सख्ती से लागू करना होगा. नदियों में औद्योगिक कचरा, उत्सर्जन आदि पर नियंत्रण लगाना होगा.
    रिसर्च के मुताबिक लॉकडाउन बंदिशों के पांचवें से सातवें हफ्ते में ये आमदनी 77.5 प्रतिशत तक गिर गई क्योंकि अधिकतर कर्मचारियों को बिना वेतन छुट्टी पर भेजा गया था.
    कोर्ट ने अपने फैसले में कहा है कि अजान इस्लाम का अहम हिस्सा है, लेकिन लाउडस्पीकर से अजान इस्लाम का हिस्सा नहीं है. इसके साथ ही हाईकोर्ट ने अजान को फंडामेंटल राइट तो माना लेकिन इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस द्वारा अजान को फंडामेंटल राइट नहीं माना है.
    20:01
    कोरोना के कहर ने सारी दुनिया को अपनी दहशत में ऐसा जकड़ा कि बड़ी से बड़ी महाशक्तियों का तेजी से भागता पहिया मानों इस महामारी के गड्ढे में फंस गया हो. कोरोना से लड़ाई में सबसे बड़ी ढाल बना लॉकडाउन. भारत ने भी इस लंबे लॉकडाउन को लागू किया. इसके बाद प्रकृति में जो निखार देखने को मिला, उससे हर कोई चकित है. जो सरकार की हजारों करोड़ों की परियोजनाएं न कर सकीं, वो प्रकृति ने इस देशव्यापी लंबे लॉकडाउन में खुद ही कर लिया. अब गंगा की धारा सही मायने में निर्मल है. अब गंगा का जल पावन नजर आता है. इन सारी चीजों का वैज्ञानिक कारण क्या है, बताएंगे इस खास रिपोर्ट में.
    05:32
    देशभर में कोरोना वायरस से संक्रमितों की संख्या लगभग 60 हजार के करीब पहुंच गई है और 1,981 की मौत हो चुकी है. ऐसे में सरकार क्या कदम उठा रही है कोरोना से जंग में, आपके लिए जानना बेहद जरूरी है. आज आज तक के तरफ से विशेष कार्यक्रम ई-एजेंडा का तीसरा चरण आयोजित किया गया. इस कार्यक्रम में मोदी सरकार के 17 मंत्रियों ने कोरोना के खिलाफ सरकार के नीतियों को स्पष्ट रूप से सामने रखा. इस आयोजन में पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्री प्रकाश जावड़ेकर भी शमिल हुए. प्रकाश जावड़ेकर ने कहा- BS6 इंजन के कारण अब प्रदूषण में 70-75 फीसदी की कमी आएगी. देखें वीडियो.
    केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि देश भर में जल्दी ही गाड़ियों के कारखाने खुलेंगे. मारुति ने तो अपना प्लांट शुरू कर दिया है. बाकी भी जल्द शुरू होंगे. लोग BS-VI गाड़ियों का इंतजार कर रहे हैं. गाड़ियां मार्केट में आते ही बिकेंगी और ऑटो इंडस्ट्री दोबारा पटरी पर होगी.

    एडवांस्ड सर्च

    रिलेटेड स्टोरी

    No internet connection

    Okay