एडवांस्ड सर्च

लोकसभा 2019 चुनाव के लिए सातों चरण का मतदान पूरा हो चुका है और एग्जिट पोल के नतीजे आने शुरू हो गए हैं. देश के सबसे तेज न्यूज चैनल आजतक ने एक्सिस माय इंडिया के साथ मिलकर देश की 543 सीटों पर सर्वे किया, जिसमें 7 लाख लोगों से बात की गई.

Speak Now



x
Languages:    हिन्दी    English
About 30374 results (4 seconds)
    लोकसभा 2019 चुनाव के लिए सभी चरणों का मतदान हो चुका है और एग्जिट पोल के नतीजे घोषित किए जा रहे हैं. देश के सबसे तेज और भरोसेमंद चैनल आजतक और एक्सिस माई इंडिया ने ये एग्जिट पोल किए हैं. फाइनल नतीजों का ऐलान चुनाव आयोग 23 मई को करेगा.
    केंद्र की कुर्सी पर कौन बैठेगा, यह 4 दिन बाद साफ हो ही जाएगा. 19 मई को सातवें चरण के मतदान के बाद सभी उम्मीदवारों की किस्मत ईवीएम में लॉक हो गई. लोकसभा चुनाव के नतीजे चाहे कुछ भी हों लेकिन इसका विभिन्न राज्यों के लोकसभा चुनाव पर असर पड़ सकता है. हरियाणा, महाराष्ट्र, झारखंड, दिल्ली और जम्मू-कश्मीर में विधानसभा चुनाव होने हैं.
    मध्‍य प्रदेश और छत्‍तीसगढ़ की तो इन दो राज्‍यों में हाल के विधानसभा चुनाव के बाद कांग्रेस की उम्‍मीदें काफी बढ़ी हुई हैं. लेकिन एग्जिट पोल के नतीजे ऐसे नहीं दिख रहे हैं. आजतक एक्सिस माय इंडिया के एग्जिट पोल के मुताबिक मध्य प्रदेश की 29 लोकसभा सीटों में से बीजेपी 26 से 28 सीटों पर कब्जा कर सकती है, जबकि कांग्रेस को 1 से लेकर 3 सीटें मिल सकती है.
    इंडिया टुडे के सर्वे के मुताबिक, इन चुनावों में भी महगठबंधन से अलग चुनाव लड़ने के बावजूद कांग्रेस को कोई फायदा नहीं हुआ. जबकि पिछले चुनावों से भी बेहतर है एनडीए की स्थिति.
    प्रधानमंत्री ने भोपाल से बीजेपी उम्मीदवार साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर को लेकर पूछे सवाल पर खुद के गुजरात सीएम रहते हुए अपने पर लगाए आरोपों का हवाला दिया.  मोदी ने कहा कि मुझ पर इतने आरोप लगे थे और एक हवा बना दी गई थी. अगर तब के अखबार, ऑनलाइन मीडिया निकालोगे तो मेरे खि‍लाफ लाखों पेज पाओगे. और उसी के प्रभाव में अमेरिका ने मुझे वीजा देने से इनकार कर दिया था. लेकिन जब सच सामने आया तो वही अमेरिका मुझे न्योता देने के लिए सामने आया. ये झूठ फैलाने का कांग्रेस का मॉडस आपरेंडी है.
    स्थायी छाप छोडऩे की महत्वाकांक्षा से प्रेरित नरेंद्र मोदी ने बतौर प्रधानमंत्री एक के बाद एक कई योजनाएं शुरू कीं, कुछ कारगर हुईं तो कुछ लडख़ड़ाकर औंधे मुंह गिरीं. अब उन्हें अपनी दूरदृष्टि का तोहफा मिलेगा या गलतियों की सजा मिलेगी?
    लोकसभा चुनाव के पहले चरण के मतदान से ठीक पहले कांग्रेस के कई नेताओं के करीबियों पर छापेमारी तेज हो गई है. पहले मध्य प्रदेश में मुख्यमंत्री कमलनाथ के करीबी के घर छापे पड़े और सोमवार रात कांग्रेस के दिग्गज नेता अहमद पटेल के करीबी भी इस घेरे में आ गए. वहीं लोकसभा चुनाव 2019 के लिए पहले चरण का मतदान 11 अप्रैल को होना है. आज शाम 5 बजे पहले चरण के लिए चुनाव प्रचार पर लगाम लग जाएगा.
    प्रधानमंत्री मोदी को उत्तर भारत के बीजेपी शासित प्रदेशों अच्छा समर्थन मिलता दिख रहा है. यह समर्थन हिमाचल प्रदेश में सर्वाधिक 36 फीसदी है. मध्य प्रदेश, राजस्थान, यूपी और छत्तीसगढ़ में भी स्थिति अच्छी है.
    एक्सिस माई इंडिया की ओर से इंडिया टुडे के लिए कराए गए पॉलिटिकल स्टॉक एक्सचेंज (PSE) ने जुटाए आंकड़े और पता करने की कोशिश की कि देश के गठबंधनों एनडीए, यूपीए और महागठबंधन में से कौन नई सरकार बनाने जा रहा है

    एडवांस्ड सर्च

    रिलेटेड स्टोरी

    No internet connection

    Okay