एडवांस्ड सर्च

देश में अब तक 3374 लोगों के कोरोना से संक्रमित हो की पुष्टि हो चुकी है, जबकि इस कारण 79 लोगों की मौत हो गई है. संक्रमण का काबू रखने के साथ-साथ केंद्र और विभिन्न राज्य सरकारें कई ऐसे कदम उठा रही हैं जिससे आमजन को आने वाली दिक्कतों को कम किया जा सके. इंडिया टुडे लगातार विभिन्न राज्यों से आने वाले निर्देशों को आप तक पहुंचा रहा है. शाम छह बजे तक की सूचना के आधार पर सरकारों की ओर से लिए गए निर्णय इस प्रकार हैं.....

Speak Now



x
Languages:    हिन्दी    English
About 30374 results (4 seconds)
    देश के कई हिस्से से स्वास्थ्य कर्मियों पर हमले की खबरें भी आ रही हैं. ऐसे में कोरोना वायरस की महामारी के बीच स्वास्थ्य कर्मियों पर हमले की घटनाओं ने उनकी सुरक्षा को लेकर चिंता बढ़ा दी है.
    महाराष्ट्र के अकोला में फंसे हुए प्रवासी मजदूर कुशल हैं. जिला प्रशासन ने सबके सेहत की जांट करवाई
    देश के 7 राज्यों की 18 राज्यसभा सीटों पर चुनाव होना है. इन 18 सीटों पर 25 प्रत्याशी मैदान में हैं. लेकिन इस बीच कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए केंद्र की मोदी सरकार ने देश भर में 21 दिनों का लॉकडाउन लगा दिया है जो 14 अप्रैल तक जारी रहेगा. इसी वजह से चुनाव आयोग ने फिलहाल के लिए यह चुनाव स्थगित कर दिया है.
    स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि 14 राज्यों में तबलीगी जमात से जुड़े 647 मरीज आए सामने आए हैं. एक गलती की वजह से इतने मामले बढ़ गए. अब अगर इस तरह की गलती हुई तो हम और पीछे चले जाएंगे.
    Sarkari Naukri 2020: इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन लिमिटेड ने 5 राज्यों में बंपर वैकेंसी निकाली है. इसमें पश्चिम बंगाल, बिहार, ओडिशा, झारखंड और असम शामिल हैं.
    कोरोना संक्रमण रोकने के लिए लागू 21 दिन के लॉकडाउन ने काफी लोगों की रोजी-रोटी को प्रभावित किया है. आलम यह है कि बिना मजदूरी लिए मजदूरों की घर वापसी हो रही है. बिहार के गोपालगंज का रहने वाला राजकुमार झारखंड की राजधानी रांची में ड्राइवर का काम करता था. लॉकडाउन की वजह से उसका काम-धंधा से बंद हो गया. अब उसके सामने दो वक्त की रोटी का जुगाड़ कर पाना मुश्किल हो गया. ऐसी संकट की घड़ी में राजकुमार ने साइकिल से अपने घर गोपालगंज जाने का फैसला किया.
    पिछले कुछ दिनों में दिल्ली, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और राजस्थान में सर्च ऑपरेशन चलाए गए हैं. अभी तक सिर्फ दिल्ली की 17 मस्जिदों में 168 विदेशी नागरिकों और 10 भारतीयों की पहचान की गई है. बाहरी मुल्क से सबसे अधिक लोग इंडोनेशिया के नागरिक पाए गए हैं.
    71 वर्षीय मरीज के पॉजिटिव मिलने से इलाके में हड़कंप मच गया. फिलहाल हावल गांव के 1 किलोमीटर एरिया को सील कर दिया गया है.
    निजामुद्दीन मरकज में शामिल हर शख्स का एक डोजियर तैयार किया जा रहा है. उनके पिछले 3 महीनों की ट्रैवल हिस्ट्री की जांच की जा रही है. इसके लिए हर तरह की तकनीक का इस्तेमाल भी किया जा रहा है. सर्विलांस, मोबाइल डेटा और इंटेलिजेंस के जरिए हर एक व्यक्ति के बारे में जानकारी जुटाई जा रही है.

    एडवांस्ड सर्च

    रिलेटेड स्टोरी

    No internet connection

    Okay