एडवांस्ड सर्च

हर व्यक्ति किसी न किसी परेशानी से घिरा रहता है. इन परेशानियों की कई वजहें हो सकती हैं लेकिन ये सभी वजहें कहीं न कहीं ग्रहों से भी जुड़ी होती हैं.

Speak Now



x
Languages:    हिन्दी    English
About 30374 results (4 seconds)
    चन्द्रमा इस तिथि के स्वामी होते हैं. अतः इस दिन हर तरह की मानसिक समस्याओं से मुक्ति मिल सकती है.
    06:31
    चाल चक्र में आज हम आपको बताएंगे शिक्षा के लिए कौन से ग्रह जिम्मेदार होते हैं. कुंडली में पांचवां भाव बुद्धि का होता है.  यह शिक्षा का केंद्रीय भाव भी है. चतुर्थ भाव और द्वितीय भाव शिक्षा के सहायक भाव होते हैं. सूर्य शिक्षा का मुख्य ग्रह है.  इसके अलावा बुध, बुद्धि को और बृहस्पति ज्ञान को मजबूत करता है.  इस सब स्थितियों को देखकर शिक्षा का ठीक ठीक अनुमान लगाया जा सकता है. कुंडली में चतुर्थ या पंचम भाव के ख़राब होने पर  द्वितीय भाव में पाप ग्रहों के होने पर  बुध और सूर्य के कमजोर होने पर, कुंडली में अग्नि तत्व के मजबूत होने पर और  मूलांक 02, 06, 07 और 08 वालों के शिक्षा में भी अक्सर बाधा आ जाती है. 
    कहीं ऐसा तो नहीं है कि कोई सी वस्तु गलत जगह या दिशा में रखी हो जिसके चलते नुकसान हो रहा हो?
    09:09
    किस्मत कनेक्शन में आज जानेंगे त्वचा की समस्या के लिए ज्योतिष में कौन से ग्रह जिम्मेदार होते हैं. त्वचा का मामला पृथ्वी तत्व का मामला है, शरीर के निर्माण का मामला है. मुख्य रूप से इसका संबंध बुध से होता है. बुध त्वचा को नवीन और अच्छा बनाये रखता है. इसके अलावा मंगल और सूर्य भी त्वचा से संबंध रखते हैं. मेष मिथुन और कन्या राशि भी त्वचा से जुड़ी हुई राशियां मानी जाती हैं. देखिए किस्मत कनेक्शन.
    07:58
    चाल चक्र में आज हम आपको बताएंगे किस रिश्ते से कौन सा ग्रह मजबूत होता है. सूर्य से अच्छा स्वास्थ्य , नाम यश और राज्य सुख मिलता है. इसके कमजोर होने पर हड्डी और ह्रदय की समस्या होती है, बिना कारण अपयश मिल जाता है.  सूर्य से लाभ लेने के लिए अपने पिता का सम्मान जरूर करें. चंद्रमा से लोकप्रियता,अच्छा मन , पारिवारिक सुख प्राप्त होता है. इसके कमजोर होने पर मानसिक समस्या, तनाव स्त्री पक्ष से कष्ट होता है. चंद्रमा से लाभ लेने के लिए माता का सम्मान जरूर करें. शुक्र से भौतिक सुख,ऐश्वर्य,धन सम्पदा और दाम्पत्य सुख मिलता है.  अगर ये कमजोर हो तो जीवन में सुख रहता ही नहीं, व्यक्ति कभी आनंद नहीं पा सकता. शुक्र से लाभ लेने के लिए स्त्रीयों का सम्मान करें, आचरण को शुद्ध रखें. 
    सही जगहों पर सही रंग के इस्तेमाल से ग्रहों का संतुलन बना रहेगा
    09:56
    शनि पीड़ित होने से और पैरों पर दुष्प्रभाव होने से या तो जूते चप्पल बार बार गुम होते है या बार-बार जल्द ही टूट जाते हैं. एस्ट्रो अंकल में बताएंगे कि शनि किन आदतों के कारण आपसे खुश हो जाते हैं. नौकरी व्यापार में सफलता के लिए कैसे करें शनि को प्रसन्न. शनि को प्रसन्न करने का महाउपाय क्या हैं. साथ ही जानिए आनेवाले दिन को कैसे बनाएं भाग्यशाली.
    वैदिक ज्योतिष में शुक्र स्त्री ग्रह होने के साथ-साथ सबसे चमकीला और शुभ ग्रह माना जाता है
    तानाजी के ट्रेलर रिलीज के लिए क्यों 1.47pm का समय चुना गया? क्यों तानाजी की इंग्लिश में स्पेलिंग Tanhaji रखी है? ये दो बड़े सवाल हर किसी के जहन में हैं. चलिए जानते हैं क्या है वो खास वजह.

    एडवांस्ड सर्च

    रिलेटेड स्टोरी

    No internet connection

    Okay