एडवांस्ड सर्च

देश, दुनिया, खेल, बिजनेस और बॉलीवुड में क्‍या कुछ हुआ? जानने के लिए यहां पढ़ें, समय के साथ साथ खबरों का लाइव अपडेशन.

Speak Now



x
Languages:    हिन्दी    English
About 30374 results (4 seconds)
    Bolangir lok sabha constituency बीजू जनता दल सांसद कलिकेश नारायण सिंहदेव पार्टी के युवा चेहरे हैं. 44 साल के कलिकेश नारायण सिंहदेव की संसद में ये दूसरी पारी है. दिल्ली के एलीट स्टीफेंस कॉलेज में पढ़े कलिकेश खुद को पॉलिटिकल और सोशल वर्कर बताते हैं.
    Kendrapara lok sabha constituency ओडिशा के पूर्व सीएम बीजू पटनायक के पारिवारिक दोस्तों में शुमार 54 साल के विजयंत जे  पांडा ने पार्टी छोड़ने के वक्त कहा था कि वह बेहद दुखी मन से उस राजनीति को छोड़ने का फैसला कर रहे हैं जिसमें बीजेडी लगातार नीचे जा रही है.
    राज्य के पहले उप मुख्यमंत्री डॉ. अनुग्रह नारायण सिन्हा और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री सत्येंद्र नारायण सिंह औरंगाबाद से आते हैं. उनके परिवार का औरंगाबाद लोकसभा सीट पर दबदबा माना जाता है. निखिल कुमार और उनकी पत्नी श्यामा सिंह भी कांग्रेस की ओर से यहां से सांसद चुने गए. निखिल कुमार राज्यपाल भी बने.
    मध्य तमिलनाडु का करूर जिला मच्छरदानी बनाने के लिए मशहूर है. 1957 से अब तक सबसे ज्यादा छह-छह बार यहां से कांग्रेस और एआईएडीएमके ने जीत दर्ज की है. लेकिन 1984 के बाद कांग्रेस को यहां से जीत नसीब नहीं हुई थी. थंबीदुरई हैं. वे 2014 में पांचवीं बार लोकसभा के लिए चुने गए.
    भारतीय जनता पार्टी में निष्कासित चल रहे सांसद कीर्ति झा आजाद शुक्रवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की मौजूदगी में कांग्रेस की सदस्यता लेने वाले थे, लेकिन जम्मू-कश्मीर में पुलवामा में हुए आतंकी हमले के चलते उनकी  ज्वाइनिंग टाल दी गई है. अब वो 18 फरवरी को कांग्रेस का थामेंगे.
    Congress committee meet in Gujarat इस बार कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमित शाह के गृहराज्य गुजरात में होना तय किया गया है.
    पुलवामा आतंकी हमले के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार को पीसी करते हुए कहा कि आतंकी हमले का मकसद देश को विभाजित करना है. यह हिंदुस्तान की आत्मा पर हमला है. वहीं पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने भी कहा कि आतंकवाद के खिलाफ कार्रवाई में हम देश के साथ खड़े हैं.
    इस सीट पर अबतक 15 बार संसदीय चुनाव हुए जिसमें कांग्रेस को 4 बार, कांग्रेस (गठबंधन) को 1 बार, जनता पार्टी को 2 बार, जनता दल को 4 बार, जेडीयू को 2 बार और लोक जनशक्ति पार्टी (एलजेपी) को 2 बार जीत मिली है.
    जम्मू-कश्मीर में आतंकियों ने एक बार फिर सुरक्षाबलों को निशाना बनाया है. पुलवामा में अवंतीपोरा के गोरीपोरा इलाके में सुरक्षाबलों के काफिले पर जैश-ए-मोहम्मद आतंकी संगठन ने आत्मघाती हमला किया. वहीं हमले हमले के बाद राजनीतिक दलों की प्रतिक्रिया आनी भी शुरू हो गई है. केंद्रीय मंत्री और पूर्व सेनाध्यक्ष वीके सिंह ने कहा है कि शहीदों के खून की एक-एक बूंद का बदला लेंगे. पढ़ें, शाम की 5 बड़ी खबरें.

    एडवांस्ड सर्च

    रिलेटेड स्टोरी

    No internet connection

    Okay