एडवांस्ड सर्च

हैदराबाद में एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर ने नौकरी जाने की वजह से फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली. मृतक की पहचान सॉफ्टवेयर इंजीनियर पी हरिणी के रूप में हुई है.

Speak Now



x
Languages:    हिन्दी    English
About 30374 results (4 seconds)
    एयरटेल, जियो और वोडाफोन आइडिया ने अगले महीन से अपने टैरिफ में बढ़ोतरी का ऐलान कर दिया है. लेकिन क्या डेटा भी महंगा होगा?
    डिजिटल क्रांति के सपने देख रहे भारतीय तो अभी कॉल ड्रॉप न हो और इंटरनेट तेज चले इसी जुगत में लगे हैं और कंपनियां बदल बदल पर प्रयोग कर रहे हैं. भारती एयरटेल ने सितंबर में 23.8 लाख ग्राहक खो दिए, आइडिया ने सितंबर में 25.8 लाख खो दिए जबकि रिलायंस जियो को 69.8 लाख नए ग्राहक मिले.
    काशी में फिरोज की नियुक्ति का विरोध हो रहा है और दूसरी तरफ इस विरोध की आंच राजस्थान की राजधानी जयपुर में भी महसूस की जा रही है. फिरोज की नियुक्ति के विरोध से जयपुर में भी चिंता है. विशेषकर वह लोग अधिक चिंतित हैं, जिन्होंने फिरोज को संस्कृत पढ़ाया है, जिन गुरुजनों ने फिरोज को संस्कृत का ज्ञान दिया है.
    दूसरे हफ्ते में भी बाला की बॉक्स ऑफिस पर नॉनस्टॉप कमाई जारी है. दूसरी तरफ नेगेटिव वर्ड ऑफ माउथ के बावजूद मरजावां अच्छा कलेक्शन कर रही है.
    अर्थव्यवस्था में सुस्ती से नौकरियों की संभावनाएं भी धूमिल होती जा रही हैं. लाखों लोगों की नौकरियों पर संकट है. लागत बचाने के लिए कंपनियां सीनियर और मध्यम स्तर के कर्मचारियों को निकाल रही हैं तथा ज्यादा से ज्यादा फ्रेशर्स को नौकरी दे रही हैं.
    अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने चेतावनी दी है कि चीन के साथ ट्रेड डील विफल होने पर टैरिफ को बढ़ा सकते हैं.
    राजस्थान में हुए स्थानीय निकाय के चुनाव में कांग्रेस ने बीजेपी को बड़ी मात दी है. राज्य के 49 शहरी स्थानीय निकायों में चुनाव हुए थे. इसमें से 23 में कांग्रेस ने बाजी मारी है. शहरी इलाकों में बीजेपी की हमेशा से बेहतर स्थिति रही है, मगर इस बार कांग्रेस ने शहरी इलाकों में भी अपनी स्थिति मजबूत कर ली है.
    क्या गोली-क्या बंदूक, क्या गाड़ी क्या घोड़ा. सब बेकार की बातें हैं. सब बेकाम की चीजें हैं. काम के तो बस ये हैं. गोली बंदूक में ना भी हो तो मुंह से ठांय-ठांय कर दें. घोड़ा-गाड़ी ना हो तो खुद ही टगबग-टगबग कर लें. सच में कमाल की है अपनी यूपी पुलिस.
    दिल्ली हाई कोर्ट में जस्टिस एस मुरलीधर और तलवंत सिंह की डिवीजन बेंच ने आइटीबीपी अधिकारियों की एक याचिका की सुनवाई के दौरान आदेश जारी करते हुए कहा है कि सीनियर एडमिनिस्ट्रेटिव ग्रेड पर अगले आदेश तक आईटीबीपी में कोई नियुक्ति डेपुटेशन से नहीं की जानी चाहिए.

    एडवांस्ड सर्च

    रिलेटेड स्टोरी

    No internet connection

    Okay