एडवांस्ड सर्च

24:34

ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड (AIMPLB) ने अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ पुनर्विचार याचिका (रिव्यू पिटीशन) दाखिल करने का ऐलान किया है. रविवार को ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने कहा कि उन्हें मस्जिद के बदले दूसरी जगह पर दी जाने वाली 5 एकड़ जमीन मंजूर नहीं है. वह दूसरी जमीन पाने के लिए अदालत नहीं गए थे. मस्जिद के लिए वही जमीन चाहिए, जहां पर बाबरी मस्जिद बनी थी. देखिए देश तक.

Speak Now



x
Languages:    हिन्दी    English
About 30374 results (4 seconds)
    कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने किसानों पर पुलिस की बर्बर कार्रवाई को लेकर योगी सरकार पर करारा हमला बोला है. वहीं, ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड (AIMPLB) ने अयोध्या मामले पर फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में पुनर्विचार याचिका (रिव्यू पिटीशन) दाखिल करने का ऐलान किया है.
    केंद्र सरकार ने अयोध्या मामले पर फैसला सुनाने वाले सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस एस अब्दुल नजीर और उनके परिवार को जेड कैटेगरी की सुरक्षा देने का फैसला किया है.
    47:21
    9 नवंबर को अयोध्या पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद से राम मंदिर समर्थकों ने मंदिर की अपनी तैयारी शुरू कर दी थी. लेकिन अयोध्या पर उनका इंतजार अभी और लंबा खिंच सकता है. ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने फैसला किया है कि वो सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ पुनर्विचार याचिका दाखिल करेगा और राजीव धवन ही उसके वकील होंगे. देखिए दंगल.
    04:07
    अयोध्या पर सबसे बड़े फैसले को मुस्लिम पक्ष ने मंजूर करने से इंकार कर दिया है. अयोध्या मामले में मुस्लिम पक्षकार रहे इकबाल अंसारी ने आजतक पर मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के इस फैसले पर अपनी प्रतिक्रिया दी है. अंसारी ने कहा कि इस मामले को लेकर पक्षकार कई सारे हैं, कोई क्या कर रहा है और कहां जा रहा है इससे उनका कोई लेना देना नहीं है. देखिए वीडियो.
    07:28
    अयोध्या फैसले पर ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड का बड़ा बयान, पुनर्विचार याचिका दायर करेगा बोर्ड. ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने कहा, मुसलमान इसके बदले में कोई दूसरी जगह स्वीकार नहीं करेगा. बोर्ड की तरफ से डॉ. कासिम रसूल इलियास ने कहा, फैसले में हैं कई खामियां, हम दूसरी मस्जिद लेने नहीं गए थे. देखें नॉनस्टॉप 100.
    अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ रिव्यू पिटीशन दायर करने के ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड (AIMPLB) के निर्णय से इस केस में मुख्य पक्षकार इकबाल अंसारी ने किनारा कर लिया है. इकबाल अंसारी ने 'आजतक' से बातचीत में कहा कि हम पहले भी कह चुके हैं. हम मामले में पक्षकार हैं, सुप्रीम कोर्ट ने फैसला किया और हमने मान लिया. पक्षकार बहुत ज्यादा हैं. कोई भी पक्षकार कहीं जा रहा है तो इसमें मेरी कोई जिम्मेदारी नहीं है. हम फिर कोर्ट नहीं जा रहे हैं और दूसरा कोई कहां जा रहा है, इससे मेरा कोई लेना-देना नहीं है.
    14:40
    अयोध्या पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले को मुस्लिम पक्ष ने मंजूर करने से इंकार कर दिया है. आज लखनऊ में आल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड की बैठक हुई जिसमें AIMPLB ने फैसला किया है कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले को वे पुनर्विचार याचिका के जरिए चुनौती देंगे. मुस्लिम पक्ष ने कहा कि उन्हें अयोध्या में किसी दूसरी जहग 5 एकड़ जमीन देने का फैसला भी स्वीकार नहीं है.
    सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन के उपाध्यक्ष और सीनियर एडवोकेट जितेंद्र मोहन शर्मा का कहना है कि संविधान के अनुच्छेद 137 के तहत सुप्रीम कोर्ट को अपने फैसले पर पुनर्विचार करने का अधिकार मिला है. इसके तहत सुप्रीम कोर्ट अपने फैसले पर पुनर्विचार कर सकता है. हालांकि सुप्रीम कोर्ट पुनर्विचार करने के लिए बाध्य नहीं हैं.
    06:52
    अयोध्या पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला मंदिर के हक में जाने के बाद रविवार को ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने इस मसले पर बैठक की. इस बैठक के दो प्रमुख एजेंडे थे, पहला था कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ पुनर्विचार याचिका लगाई जाए या नहीं और दूसरा ये कि मस्जिद के लिए पांच एकड़ जमीन स्वीकार की जाए या नहीं. इसके बाद आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले को चुनौती दी जाएगी और उन्हें किसी और जगह मस्जिद मंजूर नहीं है. देखिए वीडियो.

    एडवांस्ड सर्च

    रिलेटेड स्टोरी

    No internet connection

    Okay