एडवांस्ड सर्च

Advertisement

मोदी ने अभी महंगाई की कड़वी दवा पिलायी है, अब देंगे इंजेक्शनः भूपिन्दर सिंह हुड्डा

हरियाणा के मुख्यमंत्री भूपिन्दर सिंह हुड्डा ने कहा, ‘नरेंद्र मोदी सरकार ने लोगों को सपने दिखाये हैं लेकिन वास्तविकता बहुत कड़वी है और जो संकेत मिल रहे हैं वो अच्छे नही हैं.’
मोदी ने अभी महंगाई की कड़वी दवा पिलायी है, अब देंगे इंजेक्शनः भूपिन्दर सिंह हुड्डा हरियाणा के मुख्यमंत्री भूपिन्दर सिंह हुड्डा
अभिजीत श्रीवास्तवनई दिल्ली, 04 July 2014

नरेंद्र मोदी सरकार ने लोगों को सपने दिखाये हैं लेकिन वास्तविकता बहुत कड़वी है और जो संकेत मिल रहे हैं वो अच्छे नही हैं. ये बातें हरियाणा के मुख्यमंत्री भूपिन्दर सिंह हुड्डा ने इंडिया टुडे ग्रुप के ‘सुनिये वित्त मंत्री जी’ कार्यक्रम के ‘महंगाई डायन खाए जात है’ सत्र के दौरान कही. उन्होंने हालांकि यह भी कहा, ‘एक महीना का किसी भी सरकार के कामकाज के आंकलन के लिए बहुत कम समय है लेकिन महंगाई पर अच्छे संकेत नही हैं. पूत के पांव पालने में दिखने लगे हैं और सरकार की कड़वी दवा बाद में इंजेक्शन बन जायेगी.’ इस कार्यक्रम में बिहार के पूर्व उप-मुख्यमंत्री व वित्त मंत्री सुशील कुमार मोदी ने भी शिरकत किया. मोदी ने वर्तमान प्याज की समस्या को पूर्व सरकार द्वारा जनित बताया.

हुड्डा ने इस दौरान लगातार हरियाणा में किसानों के हित में और महंगाई पर लगाम कसने को लेकर किये गए उपायों की चर्चा की. हुड्डा ने कहा, ‘महंगाई का मुख्य कारण डीजल और पेट्रोल पर वैट है. यूपी, गुजरात, दिल्ली समेत अन्य प्रदेशों की तुलना में हरियाणा में यह बहुत कम है.’

उन्होंने मोदी सरकार के सुझाव दिया कि जिन राज्यों में बीजेपी की सरकार है वहां पर केंद्र डीजल, पेट्रोल पर वैट कम करने को कहे.

हुड्डा ने अपनी सरकार का बखान करते हुए कहा, ‘महंगाई का पैमाना प्रति व्यक्ति आय है. हरियाणा 1,45,000 रुपये प्रति व्यक्ति आय के साथ गुजरात से भी आगे है.’

उन्होंने लोगों के बीच जीएसटी (वस्तु एवं सेवा कर) को लेकर भ्रम को दूर करते हुए कहा कि इससे महंगाई पर कोई असर नहीं पड़ेगा. हालांकि उन्होंने कहा, ‘यह एक मामला जरूर है लेकिन इसका महंगाई से कोई सीधा संबंध नहीं है. मोदी सरकार को प्रति व्यक्ति आय बढ़ाने पर काम करना चाहिए, उन्हें गरीबों की आमदनी बढ़ाने पर जोर देना चाहिए.’

सुशील कुमार मोदी ने रेलवे किराया और भाड़ा बढ़ाये जाने पर कहा, ‘रेल किराया नीतीश कुमार ने बढ़ाया था, उन्होंने सुधार के बहुत से उपाय किये थे. लालू यादव के रेल मंत्री काल में इसका कबाड़ा हो गया. पिछले 11 सालों से कोई रेल किराया नहीं बढ़ाया गया तो अचानक लोगों पर किराया बढ़ाने से भार बढ़ गया. इस स्थिति से प्रत्येक साल किराया बढ़ा कर आसानी से निपटा जा सकता है.’

हुड्डा ने कहा, ‘हरियाणा में हमने किसानों को सीधे बाजार में अपने उत्पादों को बेचने का अवसर दिया है और ऐसा करने वाले हम पहले राज्य हैं. यहां के किसान सीधे ग्राहकों को अपना सामान बेचते हैं.’

हुड्डा ने बताया, ‘हरियाणा ने 85 मंडी अपना मंडी के नाम से शुरू किया है जहां किसान सीधे अपना सामान ग्राहकों को बेचता है.’

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay