एडवांस्ड सर्च

घूमने के शौक को बनाया करियर, शुरू किया होटल, बनीं बिजनेस वुमन

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर जानिए बिजनेस वुमन अदिति बलबीर के बारे में, जो V Resorts की सीईओ और फाउंडर हैं. ऐसे शुरू किया बिजनेस, महिलाओं को दिए ये खास टिप्स.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in नई दिल्ली, 07 March 2020
घूमने के शौक को बनाया करियर, शुरू किया होटल, बनीं बिजनेस वुमन Aditi Balbir

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के मौके पर हम ऐसी ही एक कहानी लेकर आए हैं, जिन्होंने अपने दम पर एक बिजनेस खड़ा कर दिखाया. ये कहानी है अदिति बलबीर की जो V Resorts की सीईओ और फाउंडर हैं. उनकी गिनती आज एक सफल बिजनेस वुमन के तौर पर होती है. आइए जानते हैं उनके बारे में.

आज अदिति कई महिलाओं को प्रेरेणा दे रही है. वह इंडियन स्कूल ऑफ बिजनेस, हैदराबाद की एक पूर्व छात्र है. उन्हें घूमने का शौक है. ऐसे में उन्हें होटल और रिज़ॉर्ट के बारे में अच्छी जानकारी है. पांच साल से भी कम समय के भीतर, अदिति ने भारत के 21 राज्यों में 120 से ज्यादा रिसॉर्ट्स के विस्तार किया, जिसका नेतृत्व वह अकेल ही कर रही हैं.

अपने होटल के लिए उन्होंने हाल की में रूस में संयुक्त राष्ट्र महासभा के हाल ही में आयोजित 23वें सत्र में, वी रिसॉर्ट्स ने भारत में स्थायी पर्यटन के लिए UNWTO पुरस्कार जीता है. अदिति भारत में महिला उद्यमियों के लिए एक आइकन बन गई हैं. वह समाज में होनहार महिलाओं और बिजनेस को बढ़ावा देने के बारे में प्रेरेणा भी देती हैं.

साथ ही अदिति बलबीर का मानना ​​है कि देश में महिलाओं का भविष्य है, महिलाएं अधिक से अधिक पदों का नेतृत्व करने में सक्षम हैं. सफलता के पीछे कई परेशानियां छिपी होती , जिनका सामना करके ही इंसान मुकाम हासिल करता है. बता दें, बचपन से ही अदिति बलबीर को घूमना काफी पसंद था. वह पांच महाद्वीपों में 135 शहरों में रही है.

अदिति ने यात्रा के अपने बचपन के प्यार घूमने- फिरने को अपने लिए करियर में बदल लिया. जिसके बाद उन्होंने वी रिसॉर्ट्स की शुरुआत की. अदिति 2014 में वी रिसॉर्ट्स की सीईओ बनी थी. पांच साल से कम समय के भीतर, अदिति ने भारत के 21 राज्यों में 120 से ज्यादा रिसॉर्ट्स के लिए कंपनी के विस्तार का नेतृत्व किया है. यह रिजॉर्ट ऑफबीट यात्रा श्रेणी में अपनी तरह का पहला ब्रांडेड रिसॉर्ट बन गया है.

अदिति ने बताया महिलाओं को यह देखना चाहिए कि वे अपनी स्किल्स का कैसे इस्तेमाल कर सकती है. कैसे वह आगे बढ़ सकती है. इसी के साथ लोगों को उनकी राय सुनी जानी चाहिए और यह पूछने में कभी भी शर्म नहीं करनी चाहिए कि उनका अधिकार क्या है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay