एडवांस्ड सर्च

ISRO की इस महिला वैज्ञानिक ने अंटार्कटिका में बिताया एक साल, बना रिकॉर्ड

56 साल की उम्र में इस महिला ने किया कमाल, अंटार्कटिका में जाकर ऐसे बनाया रिकॉर्ड.

Advertisement
Sahitya Aajtak 2018
aajtak.in [Edited by: प्रियंका शर्मा]नई दिल्ली, 29 March 2018
ISRO की इस महिला वैज्ञानिक ने अंटार्कटिका में बिताया एक साल,  बना रिकॉर्ड Mangala Mani

अगर आप जीवन में कुछ अलग करना चाहते हैं तो उम्र किसी की मोहताज नहीं होती. आज एक ऐसी महिला के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्होंने 56 साल की उम्र में अंटार्कटिका में एक साल बिताकर अपने नाम रिकार्ड दर्ज कर लिया है. इस महिला का नाम मंगला मणि है जो ISRO में वैज्ञानिक है. रिपोर्ट्स की माने तो उन्होंने अंटार्कटिका में लगभग 403 दिन बिताए हैं. वह नवंबर 2016 में अपनी टीम के साथ अंटार्कटिका में स्थित भारत के रिसर्च स्टेशन भारती गई थीं. टीम में कुल 23 सदस्य शामिल थे. जिसमें वह अकेली महिला थी.

ये हैं दुनिया की बेस्ट टीचर, मिला 6.5 करोड़ का इनाम

ऐसा था मिशन

मंगला पिछले साल दिसंबर में अपने मिशन को पूरा करके वापस लौटी हैं. इस मिशन का एक्सपीरियंस शेयर करते हुए उन्होंने बताया कि अंटार्कटिका का ये मिशन काफी चुनौतीपूर्ण रहा. सबसे ज्यादा मुश्किलें वहां के मौसम को झेलने में आई. उन्होंने कहा मुझे और मेरी टीम को रिसर्च सेंटर से बाहर निकलने के दौरान काफी सावधानी बरतनी पड़ती थी. वहीं उन्होंने कहा ठंड इतनी थी कि बाहर दो से तीन घंटे से ज्यादा नहीं रहा जाता था.

10वीं के छात्र ने पैर से लिखकर दी बोर्ड परीक्षा, तस्वीरें वायरल

आपको बता दें, मंगला 2016-17 के दौरान अकेली ऐसी महिला वैज्ञानिक हैं जो अंटार्कटिका के मिशन पर गई थीं. वहां चीन और रूस के रिसर्च स्टेशन पर भी इस दौरान कोई महिला वैज्ञानिक नहीं थी. अपनी टीम के बारे में मंगला ने कहा, 'मिशन के दौरान टीम ने काफी सपोर्ट किया और मुझे किसी तरह की परेशानी नहीं हुई. वह मंगला और उनकी टीम अंटार्कटिका में भारत के रिसर्च स्टेशन पर ध्रुवीय कक्षा में घूम रहे सैटलाइट्स के डेटा लेने के लिए गई थीं. वहीं 56 साल की उम्र में मंगला का ये जज्बा देखकर सब हैरान है. अंटार्कटिका मिशन में जाने से पहले उनकी शारिरिक और मानसिक जांच हुई थी. जिसमें वह पूरी तरह से पास हुई.

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay