एडवांस्ड सर्च

शादी और रिलेशनशिप के लिए यह है सबसे बड़ा खतरा, रिसर्च से चौंकाने वाला खुलासा

आर्थिक दिक्कतें, अंतरंग संबंध, भावानात्मक अलगाव, गलतफहमियां, ये सब शादी टूटने की सबसे बड़ी वजहें मानी जाती हैं पर क्या कोई और भी वजह है जिससे रिश्ते का अंत होता है.

Advertisement
aajtak.in
प्रज्ञा बाजपेयी नई दिल्ली, 26 October 2017
शादी और रिलेशनशिप के लिए यह है सबसे बड़ा खतरा, रिसर्च से चौंकाने वाला खुलासा शादी खत्म होने की यह है बड़ी वजह

आर्थिक दिक्कतें, अंतरंग संबंध, भावानात्मक अलगाव, गलतफहमियां, ये सब शादी टूटने की सबसे बड़ी वजहें मानी जाती हैं पर क्या कोई और भी वजह है जिससे रिश्ते का अंत होता है.

एक वजह है जिसकी वजह से दंपत्ती अलग हो रहे हैं, यह है उम्मीदों का पूरा ना हो पाना.

एक रिसर्चर डेरेक हार्वे को 6 साल पहले जब एक सेमिनार में यह पता चला तो वह हैरान थे. डेरेक कहते हैं, मैंने बहुत लोगों को देखा है जिनकी आकांक्षाएं पूरी नहीं हो पाने की वजह से वे दर्द और तनाव में रहते हैं . केवल शादी में ही नहीं बल्कि किसी भी रिश्ते में ऐसा होता है.

उम्मीदों के पूरा ना हो पाने से धीरे-धीरे असंतोष और अवसाद बढ़ता जाता है. रिश्तों में यह जहर घोलता जाता है और दो लोगों के बीच दूरियां बढ़ती चली जाती है.

शादी से पहले या किसी भी रिश्ते में जाने से पहले रोमांस को लेकर बहुत फैंटसी होती है. अगर रोमांस को लेकर आपकी उम्मीदें बहुत ज्यादा हो तो यह मुश्किल भरा हो सकता है.

तुम इतनी जोर-जोर से खर्राटे क्यों लेते हो, तुम इस तरह के कपड़े क्यों पहनते हो? छोटी-छोटी चीजों में भी रिश्ते में आई कड़वाहट दिखने लगती है. इससे इनकार नहीं किया जा सकता है कि यह स्वीकार करना मुश्किल होता है कि आपके सपनों का राजकुमार या राजकुमारी वैसा नहीं है, जैसा आपने सोचा था.

उम्मीदों पर खरे ना उतर पाना रिश्ते के खात्मे की सबसे बड़ी वजह हो सकती है.

अक्सर लोग शादी या लॉन्ग टर्म रिलेशनशिप्स में यह सोचकर पड़ते हैं कि अगला शख्स उनकी सोच के हिसाब से अपने तौर-तरीके बदल लेगा. उन्हें लगता है कि वक्त के साथ उनका पार्टनर अपने तौर-तरीके बदल लेगा. इससे केवल असंतोष और असंतोष पैदा होता है. यह बहुत ही मुश्किल भरा होता है कि आप अपने पार्टनर को उसी रूप में स्वीकार कर ले जिस तरह वह हैं.

इस समस्या से निपटने का साधारण सा फार्म्यूला है कि आप एक टीम की तरह काम करें. किसी भी समस्या या परेशानी में किसी एक को जिम्मेदार नहीं ठहराएं बल्कि कंधे से कंधा मिलाकर काम करें.

साथ मिलकर अपनी लाइफ के लिए कुछ लक्ष्य तय करें और मिलकर काम करें. इससे ना केवल आपका मजा दोगुना हो जाएगा बल्कि किसी तीसरे शख्स के आने की गुंजाइश भी कम हो जाएगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay