एडवांस्ड सर्च

अकेले रहने वाले लोग होते हैं इंटेलिजेंट! शोध में खुलासा

अकेले रहने वालों का अपना नफा-नुकसान होता है, कई लोग ऐसे लोगों को ज्यादा पसंद भी नहीं करते, लेकिन एक शोध में यह बात सामने निकल कर आई है कि ऐसे लोग ज्यादा बुद्धिमान होते हैं.

Advertisement
aajtak.in
सुमित कुमार/ aajtak.in नई दिल्ली, 18 August 2019
अकेले रहने वाले लोग होते हैं इंटेलिजेंट! शोध में खुलासा प्रतिकात्मक तस्वीर

अकेले रहने वाले या सोशल मीडिया पर कम सक्रिय रहने लोग दिखने में थोड़े बोरिंग लगते हैं, लेकिन इन लोगों में एक दिलचस्प खासियत होती है. एक शोध में खुलासा हुआ है कि खुद को रिजर्व रखने वाले लोग यानी कम घुलने-मिलने वाले लोग ज्यादा इंटेलिजेंट होते हैं. यह शोध वर्ल्‍ड इकनॉमिक फोरम ने की है.

यह शोध 18 से 28 साल के करीब 15 हजार से ज्‍यादा लोगों पर किया गया है. इस शोध में उनकी जिंदगी से जुड़े कुछ खास सवाल-जवाब भी किए गए. लोगों से मिलना जुलना उन्हें कितना अच्छा लगता है या उनके आस-पास कितनी आबादी रहती है, कुछ इस तरह के सवाल शोध में पूछे गए.

शोध में पता लगा कि ऐसे लोगों को ज्‍यादा भीड़ पसंद नहीं है. ज्यादा लोगों को बीच इन्हें घुटन महसूस होती है और यह खुद को उस माहौल में ढाल नहीं पाते. शोध की मानें तो ज्‍यादातर बुद्धिमान व्यक्तियों को दोस्‍तों के साथ लगातार जुड़े रहने से कम ही संतुष्टी मिलती है.

इन लोगों के रिजर्व रहने के कई कारण हो सकते हैं. शायद बुद्धिजीवी लोग अपने काम पर फोकस करने में ज्यादा विश्वास रखते हैं. दूसरी वजह यह भी हो सकता है कि उन्‍हें अंतर्मुखी लोगों की तरह खुद को ही रीचार्ज करने की जरूरत है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay